S M L

'जो पहले आंख भी नहीं मिलाते थे, अब PM मोदी को हटाने का एजेंडा चला रहे हैं'

विपक्ष के एकजुट होने पर भारतीय जनता पार्टी ने उस पर जबरदस्त हमले किए हैं

Updated On: Jan 19, 2019 05:49 PM IST

FP Staff

0
'जो पहले आंख भी नहीं मिलाते थे, अब PM मोदी को हटाने का एजेंडा चला रहे हैं'

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ओर से बुलाई गई विपक्ष की महारैली में शनिवार को लगभग सभी विपक्षी नेता नजर आए. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती के अलावा देश की लगभग सभी विपक्षी पार्टियों के नेता यहां दिखाई दिए.

विपक्ष के एकजुट होने पर भारतीय जनता पार्टी ने उस पर जबरदस्त हमले किए हैं. जिस वक्त कोलकाता में ये विपक्षी रैली चल रही थी, उसी वक्त भारतीय जनता पार्टी की ओर से राजीव प्रताप रूडी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विपक्षी नेताओं पर निशाना साधा. वहीं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी पूरे विपक्ष पर तंज कसा.

प्रसाद ने कहा, 'जो लोग पहले एक दूसरे को देख भी नहीं सकते थे, आज साथ आ गए हैं. उनके भाषणों से साफ पता चल रहा था कि उनका एक ही एजेंडा है- नरेंद्र मोदी को हटाना. उनके पास भारत के विकास को लेकर भविष्य का कोई रोडमैप नहीं है.'

प्रसाद ने प्रधानमंत्री पद के कैंडीडेट का चेहरा साफ नही होने पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा, 'किसी ने बहुत मजाकिया बात कही कि हमारा नेता देश की जनता चुनेगी, देश की जनता से चुने जाने के लिए आपको पहले एक नेता का नाम लेना होगा. राहुल गांधी, मायावती, ममता जी के अलावा कुछ क्षेत्रीय नेता भी हैं, जिनकी प्रधानमंत्री बनने की मंशा है.'

शनिवार को कोलकाता में ममता बनर्जी ने यूनाइटेड इंडिया रैली नाम से एक विपक्ष की रैली आयोजित की थी, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, उनके बेटे और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू, शरद पवार, फारूक अब्दुल्ला, शरद यादव, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, हेमंत सोरेन और अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री गेगोंग अपांग समेत 20 से अधिक राष्ट्रीय नेता रहे. राहुल गांधी ने भी एक चिट्ठी लिखकर इस रैली को समर्थन दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi