S M L

जिन्होंने अंग्रेजों की गुलामी की वो आज सत्ता में हैं: तेजस्वी यादव

आरजेडी नेता ने केंद्र सरकार के रवैए को तानाशाही बताते हुए दावा किया कि आगामी लोकसभा चुनाव में बिहार से बीजेपी का सफाया हो जाएगा

Updated On: Jan 14, 2019 02:55 PM IST

FP Staff

0
जिन्होंने अंग्रेजों की गुलामी की वो आज सत्ता में हैं: तेजस्वी यादव

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता दो दिनों के लखनऊ दौरे पर हैं. इस दौरान सोमवार को उन्होंने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस की. प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी ने कहा कि देश में अघोषित अपातकाल लगा है और केंद्र सरकार का रवैया भी तानाशाही भरा है.

इसी के साथ उन्होंने हाल ही में हए एसपी और बीएसपी गठबंधन की भी तारीफ की. उन्होंने एसपी-बीएसपी गठबंधन को समर्थन भी किया और कहा कि जो अंग्रेजों के नौकर थे वो आज सत्ता में हैं. दो दिवसीय उत्तर प्रदेश दौरे पर आए तेजस्वी ने रविवार की शाम बीएसपी प्रमुख मायावती से मुलाकात की थी. इसके बाद सोमवार को वह लखनऊ में अखिलेश यादव से मिले.

कांग्रेस को न शामिल करने पर क्या बोले तेजस्वी?

उत्तर प्रदेश में हुए गठबंधन में कांग्रेस को न शामिल करने के सवाल पर तेजस्वी ने कहा 'एसपी और बीएसपी ही यूपी में मोदी जी को हराने के लिए काफी हैं, जिसका उदाहरण आप उपचुनाव में देख चुके हैं.' उन्होंने कहा आप राहुल जी के बयान को पढ़ें, उन्होंने कहा, 'बीजेपी को यहां (उत्तर प्रदेश) कोई सीट नहीं मिलने वाली, इसलिए कौन गठबंधन में है यह मायने नहीं रखता.'

आरजेडी नेता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीबीआई और ईडी की विश्वसनीयता पर भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि सीबीआई और ईडी अब कोई एजेंसी नहीं रही हैं बल्कि उनका भी बीजेपी के साथ गठबंधन हो गया है. उन्होंने लालू यादव के जेल में होने का कारण भी बीजेपी को ही बताया. उन्होंने कहा कि बीजेपी लालू जी से डर गई थी.

जनता में बीजेपी के खिलाफ गुस्सा है

तेजस्वी ने केंद्र सरकार पर बिहार की अनदेखी का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि जनता में बीजेपी के खिलाफ काफी गुस्सा है. आरजेडी नेता ने दावा किया कि आगामी लोकसभा चुनाव में बिहार से बीजेपी का सफाया हो जाएगा.

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बिहार से वादाखिलाफी का भी आरोप लगाया. तेजस्वी यादव ने कहा कि पीएम मोदी ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया.

गौरतलब है कि आगामी लोकसभा चुनाव के पहले बीजेपी के रथ को थामने के लिए विपक्ष लामबंद हो रहा है. यूपी में इसका उदाहरण पेश किया एसपी-बीएसपी के गठबंधन ने. तेजस्वी यादव भी इस गठबंधन में शामिल होने की संभावनाएं तलाश रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi