विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

मिट्टी घोटाले की नए सिरे से जांच, मुश्किल में लालू के बेटे तेज प्रताप

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं.

FP Staff Updated On: Aug 01, 2017 11:16 AM IST

0
मिट्टी घोटाले की नए सिरे से जांच, मुश्किल में लालू के बेटे तेज प्रताप

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं. क्योंकि बिहार की नई एनडीए सरकार ने मिट्टी घोटाले की नए सिरे से जांच करने के आदेश दे दिए हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया पर छपी खबर के मुताबिक, वन विभाग के एक अधिकारी ने बताया है कि पीसीसीएफ ने विभाग के लिए खरीदी गई मिट्टी को लेकर ताजा फाइलें जमा कराईं हैं. कार्रवाई के लिए फाइलें मुख्य सचिव को सौंपी जाएंगी.

बिहार के नए डिप्टी सीएम और पहले विपक्ष के नेता रहे सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया था कि पटना जू ने बिना किसी टेंडर के 90 लाख रुपए की मिट्टी सगुना मोड़ पर बन रहे मॉल के बेसमेंट के निर्माण के लिए इस्तेमाल करने दी थी.

उन्होंने दावा किया था कि मॉल की दो एकड़ की जमीन डिलाइट मार्केटिंग कंपनी प्राइवेट लिमिटेड (अब लारा प्रोजेक्ट्स एलएलपी है) की है. लालू के बेटे तेजस्वी और तेज प्रताप कंपनी के बोर्ड डायरेक्टर्स थे.

यही नहीं सुशील कुमार मोदी ने ये भी आरोप लगाया था कि, डिलाइट मार्केटिंग और एके इंफोसिस्टम की तर्ज पर एबी एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के जरिए लालू परिवार ने दिल्ली में लगभग 115 करोड़ रुपए की संपत्ति अर्जित की है.

उन्होंने आरोप लगाया कि, दिल्ली के सबसे पॉश इलाके में जमीन खरीदने के लिए मुंबई के पांच बड़े ज्वैलर्स ने एबी एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड को एक करोड़ रुपए प्रति ज्वैलर यानी कुल 5 करोड़ रुपए का कर्ज बिना ब्याज के साल 2007-08 में दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi