S M L

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: सूबे में 78.56 फीसदी मतदान, 3 मार्च को होगा फैसला

चुनाव आयोग ने यह भी कहा कि कहीं से भी हिंसा की कोई खबर नहीं आई और मतदान शांतिपूर्ण रहा

Updated On: Feb 18, 2018 09:45 PM IST

FP Staff

0
त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: सूबे में 78.56 फीसदी मतदान, 3 मार्च को होगा फैसला

त्रिपुरा में रविवार को विधानसभा चुनाव में 78.56 फीसदी मतदान हुआ जो पिछले विधानसभा चुनाव के 91.82 फीसदी मतदान से लगभग 13 फीसदी कम है. कई पोलिंग बूथों पर अभी भी वोटिंग जारी है. विधानसभा की कुल 60 सीटों में से 59 पर मतदान हुआ. चारिलाम विधानसभा क्षेत्र में पिछले हफ्ते सीपीएम उम्मीदवार रामेंद्र नारायण देब वर्मा की मौत हो जाने के कारण रविवार को मतदान नहीं हो पाया. इस निर्वाचन क्षेत्र में 12 मार्च को वोट डाला जाएगा.

चुनाव आयोग द्वारा जारी आंकड़े के अनुसार राज्य में 78.56 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाला. मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने अपनी पत्नी पांचाली भट्टाचार्य के साथ मतदान करने के बाद कहा, 'यह निश्चित है कि इस चुनाव के बाद वाममोर्चे की आठवीं सरकार बनेगी. हमें इसकी पूरी उम्मीद है.'

बीजेपी त्रिपुरा के अध्यक्ष बिप्लब कुमार देब ने दक्षिणी त्रिपुरा के उदयपुर में मतदान करने के बाद कहा, 'लोग बदलाव चाहते हैं. लोग त्रिपुरा में बीजेपी की सरकार बनने की कामना कर रहे हैं.'

बीजेपी इस पूर्वोत्तर राज्य में वाम शासन का 25 साल पुराना गढ़ ढहाने की जी-तोड़ कोशिश में जुटी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह जैसे पार्टी के दिग्गज खुद ही इस अभियान के अगुवा हैं. बीजेपी ने 51 सीटों पर उम्मीदवार उतार रखे हैं. उसने इंडिजिनियस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) से चुनावपूर्व गठबंधन किया था. बाकी नौ सीटों पर वामविरोधी आईपीएफटी ने अपने उम्मीदवार उतार रखे हैं.

चुनाव आयोग ने कहा कि त्रिपुरा के सभी पोलिंग बूथों पर पहली बार वीवीपैट का इस्तेमाल हुआ.

चुनाव आयोग ने यह भी कहा कि 12 जगहों पर ईवीएम मशीनों में खराबी की वजह से बैलेट यूनिट्स को बदला भी गया.

शाम 4 बजे के बाद भी कई मतदान केंद्रों पर वोटरों की लंबी कतारें लगी हुईं थी जिसकी वजह से वहां देर तक वोटिंग हुई.

चुनाव आयोग ने यह भी कहा कि कहीं से भी हिंसा की कोई खबर नहीं आई और मतदान शांतिपूर्ण रहा. दो जिंदा बम भी मिले जिसे बाद में निष्क्रिय कर दिया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi