S M L

साथ रहने का बहुत प्रयास किया लेकिन अखिलेश ने जवाब नहीं दिया: शिवपाल

समाजवादी पार्टी छोड़ अपनी नई पार्टी बनाने वाले शिवपाल यादव ने कहा है कि मैंने बहुत इंतजार किया. एक रहने का बहुत प्रयास किया लेकिन एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव की तरफ से कोई जवाब नहीं आया

Updated On: Oct 18, 2018 11:26 AM IST

FP Staff

0
साथ रहने का बहुत प्रयास किया लेकिन अखिलेश ने जवाब नहीं दिया: शिवपाल
Loading...

समाजवादी पार्टी छोड़ अपनी नई पार्टी बनाने वाले शिवपाल यादव ने कहा है कि मैंने बहुत इंतजार किया. एक रहने का बहुत प्रयास किया लेकिन एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव की तरफ से कोई जवाब नहीं आया. उन्होंने सवाल पूछा कि अखिलेश ने दूसरी पार्टियों को बोलने का मौका क्यों दिया?

बुधवार को शिवपाल ने महाष्टमी के मौके पर राज्य सरकार से मिले नए सरकारी बंगले में गृह प्रवेश किया. यह बंगला इससे पहले मायावती को आवंटित था. नए घर में पहुंचते ही शिवपाल ने कहा कि उनकी पार्टी समाजवादी सेक्युलर मोर्चा हर सीट से अपने उम्मीदवार उतारेगी. उन्होंने साफ किया कि मुलायम सिंह यादव की सीट को छोड़कर सभी पर उनके उम्मीदवार मैदान में उतरेंगे.

शिवपाल ने कहा कि मैं जनविरोधी सरकारों के खिलाफ काम करूंगा. उत्तर प्रदेश की जनता का विश्वास तमाम दलों से उठ गया है. इसलिए हमने अपनी पार्टी बनाई है. उन्होंने कहा कि समान विचारधारा के लोग अगर संपर्क करना चाहते हैं तो उनका स्वागत है.

उनके भतीजे और समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए शिवपाल के समाजवादी सेक्युलर मोर्चे को बीजेपी की टीम बी बताया था. शिवपाल ने इस पर कहा कि बीजेपी ने उन पर कोई मेहरबानी नहीं की है. उन्होंने कहा कि खुफिया जानकारी के मुताबिक, उन्हें खतरा था और वह 5 बार विधायक रह चुके हैं.

समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के प्रमुख ने कहा कि यह पुरानी व्यवस्था है और उन्हें भी पुरानी व्यवस्था के अनुसार बंगला मिला है. शिवपाल ने बताया, आज हमने घर में प्रवेश कर लिया है. यहां पूजा हो गई है. गुरुवार से यहां पर पार्टी का काम शुरू हो जाएगा.

अखिलेश के तंज पर शिवपाल ने कहा कि जो लोग बंगला मिलने पर सवाल उठा रहे हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि यह पुरानी व्यवस्था है. जो लोग ऐसा कह रहे हैं उन्हें भी बहुत बंगले दिए गए हैं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi