S M L

पूर्वोत्तर के लोगों में अलग-थलग की भावना खत्म हो गई: पीएम मोदी

उन्होंने कहा, ‘मैं इसे एक पार्टी की जीत, एक पार्टी की हार के तौर पर नहीं देखता हूं. महत्वपूर्ण ये है कि पूर्वोत्तर के लोगों की खुशी में पूरा देश शामिल हुआ

Updated On: Mar 04, 2018 04:24 PM IST

Bhasha

0
पूर्वोत्तर के लोगों में अलग-थलग की भावना खत्म हो गई: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में आए चुनाव परिणामों और उनमें बीजेपी को मिली भारी सफलता का परोक्ष उल्लेख करते हुए कहा कि वह इसे किसी एक पार्टी की जीत या अन्य पार्टी की हार के तौर पर नहीं देखते .

उन्होंने कहा ,‘महत्वपूर्ण यह है कि पूर्वोत्तर के लोगों की खुशी में पूरा देश शामिल हुआ.’ उन्होंने यह भी दावा किया कि उनकी सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों ने एकीकरण का काम किया जिससे पूर्वोत्तर के लोगों में शेष देश से अलग थलग होने की भावना दूर हुई.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘आपने देखा कि शुक्रवार को पूरा देश होली के रंग में रंगा हुआ था. शनिवार को पूर्वोत्तर के नतीजों ने फिर एक बार पूरे देश में उत्सव का वातावरण बना दिया.’

उन्होंने कहा, ‘मैं इसे एक पार्टी की जीत, एक पार्टी की हार के तौर पर नहीं देखता हूं. महत्वपूर्ण ये है कि पूर्वोत्तर के लोगों की खुशी में पूरा देश शामिल हुआ.’

युवाओं से संवाद हमेशा सीखने लायक होता है 

प्रधानमंत्री ने रविवार को कर्नाटक के तुमकूर में एक युवा सम्मेलन को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए यह बात कही. यह सम्मेलन स्वामी विवेकानंद द्वारा शिकागो संबोधन के 125वें वर्ष और भगिनी निवेदिता के 150 वें जन्म वर्ष के अवसर पर आयोजित किया गया.

‘युवा शक्ति : भारत के लिए एक नई दृष्टि’ विषय पर इस सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘युवा पीढ़ी से किसी भी प्रकार का संवाद हो, उनसे हमेशा कुछ न कुछ सीखने को मिलता है. इसलिए मैं यथासंभव प्रयास करता हूं कि युवाओं से ज्यादा से ज्यादा मिलूं, उनसे बात करूं, उनके अनुभव सुनूं. उनकी आशाएं, उनकी आकांक्षाएं जानकर, उनके मुताबिक कार्य कर सकूं, इसका मैं निरंतर प्रयत्न करता हूं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi