S M L

योगी पर ओवैसी का पलटवार, कहा- गोरखपुर के अस्पताल में ऑक्सीजन नहीं, उसकी चिंता करें

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपनी चुनावी रैली में कहा था, 'तेलंगाना में यदि बीजेपी सत्ता में आई तो मैं आपको यकीन दिलाता हूं ओवैसी को तेलंगाना छोड़कर भागना पड़ेगा उसी तरह जैसी कि निजाम को हैदराबाद छोड़कर जाना पड़ा था'

Updated On: Dec 03, 2018 12:29 PM IST

FP Staff

0
योगी पर ओवैसी का पलटवार, कहा- गोरखपुर के अस्पताल में ऑक्सीजन नहीं, उसकी चिंता करें

तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अपने चरम पर है. राजनीतिक दलों और उनके नेता एक-दूसरे पर काफी कड़वे प्रहार कर रहे हैं. रविवार को विकराबाद के तंदूर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता असदुद्दीन ओवैसी पर काफी तीखे अंदाज में हमला बोला.

योगी ने कहा, 'तेलंगाना में यदि बीजेपी सत्ता में आई तो मैं आपको यकीन दिलाता हूं ओवैसी को तेलंगाना छोड़कर भागना पड़ेगा उसी तरह जैसी कि निजाम को हैदराबाद छोड़कर जाना पड़ा था.'

यही नहीं योगी ने गोशमहल की अपनी रैली में मुस्लिम आतंकवाद पर वार करते हुए कहा, 'अगर यह मुस्लिम तुष्टिकरण नहीं होती तो देश के अंदर कोई भी आतंकी घटना घटित होती है तो उसके तार हैदराबाद से जुड़े हुए नहीं दिखाई देते.'

योगी के प्रहार से तिलमिलाए ओवैसी कहां चुप बैठने वाले थे. उन्होंने योगी को चुनौती देने वाले अंदाज में कहा कि हिंदुस्तान उनका है और वो यहीं पैदा हुए हैं. इसलिए वो कहीं नहीं जाएंगे बल्कि अंतिम सांस तक यहीं रहेंगे.

एएआईएमआईएम सांसद ने कहा, 'इनके यूपी सीएम हैदराबाद में टपक गए. बेचारे यूपी सीएम कह रहे हैं कि अगर तेलंगाना में बीजेपी की सरकार बनेगी तो ओवैसी को भगा देंगे. जिस तरह निजाम को भगाए थे. मैं इनको पूछ रहा हूं कि यह भगाने की बात तुम कब से कर रहे हो.'

ओवैसी ने मुख्यमंत्री योगी के अपने भाषण में निजाम पर गलतबयानी का आरोप लगाते हुए कहा, 'आप तारीख तो जानते नहीं, इतिहास में जीरो हैं आप. अगर पढ़ना नहीं आता तो पढ़ने वाले से पूछो. अगर पढ़ते तो मालूम होता कि निजाम हैदराबाद छोड़ कर नहीं गए, उनको राजप्रमुख बनाया गया था. चीन से जंग हुई थी तो यही निजाम ने अपना सोना बेच दिया था.'

उन्होंने कहा, 'इनके (योगी की) क्षेत्र में इंसेफेलाइटिस से हर साल 150 बच्चे मरते हैं. बच्चे मर रहे हैं योगी, तुम्हारे गोरखपुर के दवाखाने में ऑक्सिजन नहीं है. तुमको वहां की फिक्र नहीं, तुम यहां आ रहे हो. यहां आकर नफरत की दीवार खड़ी करने की बात कर रहे हो.'

तेलंगाना की सभी 119 सीटों पर 7 दिसंबर को एक चरण में होगी वोटिंग

बता दें कि वर्ष 2014 में आंध्र प्रदेश से अलग होकर बने तेलंगाना में टीआरएस की सरकार है और कांग्रेस यहां विपक्ष में है. राज्य में ओवैसी की पार्टी चुनाव नहीं लड़ रही है. मगर वो हैदराबाद और आस-पास चुनाव प्रचार कर 2019 आम चुनाव से पहले पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने के प्रयास में जुटे हैं.

तेलंगाना में कांग्रेस का तेलगु देशम पार्टी (टीडीपी) के साथ चुनावी समझौता हुआ है.

तेलंगाना की कुल 119 विधानसभा सीटों के लिए 7 दिसंबर को एक ही चरण में मतदान कराए जाएंगे. इसी दिन राजस्थान में भी चुनाव होने हैं.

तेलंगाना समेत पांचों चुनावी राज्यों के नतीजे 11 दिसंबर को घोषित होंगे

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi