S M L

तेलंगाना में कांग्रेस को झटका, विधानपरिषद के चार सदस्य KCR की पार्टी में शामिल

विधानपरिषद सदस्यों ने सभापति के. स्वामी गौड़ से अनुरोध किया है कि ऊपरी सदन में उनका विलय राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस में कर दिया जाए

Updated On: Dec 21, 2018 06:52 PM IST

Bhasha

0
तेलंगाना में कांग्रेस को झटका, विधानपरिषद के चार सदस्य KCR की पार्टी में शामिल

तेलंगाना में कांग्रेस को शुक्रवार को झटका लगा. विधान परिषद के चार सदस्यों ने टीआरएस में शामिल होने का फैसला कर लिया.

गुरुवार को बकायदा इन सदस्यों ने परिषद में सभापति को अपनी अर्जी भी सौंप दी. विधानपरिषद सदस्यों ने सभापति के. स्वामी गौड़ से अनुरोध किया कि ऊपरी सदन में उनका विलय राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस में कर दिया जाए.

कांग्रेस एमएलसी- एमएस प्रभाकर राव, टी संतोष कुमार, के दामोदर रेड्डी और अकुला ललिता ने सभापति से मुलाकात करके एक अर्जी सौंपी.

विधान परिषद के चारों सदस्यों ने अर्जी में कहा कि 20 दिसंबर को विधान परिषद में कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई जिसमें विधान परिषद में टीआरएस के साथ उसके विलय पर चर्चा हुई.

पत्र में लिखा गया है, ‘उक्त बैठक में हमने तेलंगाना विधान परिषद में तेलंगाना राष्ट्र समिति विधायक दल में विलय करने का फैसला किया है और सहमति जताई.’

उन्होंने कहा कि संविधान की दसवीं अनुसूची के पैरा चार के तहत तेलंगाना राष्ट्र समिति विधायक दल में विलय के लिए उनके पास आवश्यक संख्या बल है.

उन्होंने कहा कि तेलंगाना विधान परिषद में कांग्रेस के कुल छह सदस्य हैं.

बता दें कि इस वक्त तेलंगाना में टीआरएस की नई सरकार बनी है. राज्य में 119 विधानसभा सीटों के लिए सात दिसंबर को हुए चुनाव में टीआरएस को 88 सीटें मिली हैं. वहीं कांग्रेस की अगुवाई में बना ‘प्रजा कुटमी’ गठबंधन केवल 21 सीटें ही जीत पाया. राज्य में बीजेपी को केवल एक ही सीट मिली है.

उधर, केसीआर भी कांग्रेस-बीजेपी को छोड़कर क्षेत्रीय पार्टियों से मुलाकात करके एक तीसरा मोर्चा तैयार करने में जुटे हैं. वो अगले कुछ दिनों में नवीन पटनायक, ममता बनर्जी, मायावती और अखिलेश यादव से मुलाकात करने वाले हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi