S M L

तेलंगाना सीएम KCR आज PM मोदी से करेंगे मुलाकात, अखिलेश-मायावती से भी मिलने की योजना

गैर बीजेपी और गैर कांग्रेस गठजोड़ की कयावद में लगे केसीआर की मोदी से इस मुलाकात पर सभी दलों की नजरें हैं. हालांकि पार्टी के एक नेता ने बताया है कि पीएम से मिलना सिर्फ एक शिष्टाचार भेंट है

Updated On: Dec 26, 2018 11:18 AM IST

FP Staff

0
तेलंगाना सीएम KCR आज PM मोदी से करेंगे मुलाकात, अखिलेश-मायावती से भी मिलने की योजना

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) प्रमुख और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) सीएम पद की शपथ लेने के बाद पहली बार बुधवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात करेंगे. इसके अलावा उनकी अन्य दलों के नेताओं से भी मिलने की योजना है.

गैर बीजेपी और गैर कांग्रेस गठजोड़ की कयावद में लगे केसीआर की प्रधानमंत्री मोदी से इस मुलाकात पर सभी दलों की नजरें हैं. हालांकि पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने न्यूज-18 को बताया है कि पीएम मोदी से मिलना सिर्फ एक शिष्टाचार भेंट है. इसका फेडरल फ्रंट से कोई लेना-देना नहीं है.

प्रधानमंत्री से मुलाकात के अलावा केसीआर की समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी सहित समान विचारधारा वाले अन्य दलों के नेताओं से मिलने की योजना है. अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर राव ने सोमवार को कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और रविवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री एवं बीजू जनता दल के अध्यक्ष नवीन पटनायक से मुलाकात की थी.

अखिलेश और मायावती से भी मिल सकते हैं केसीआर

टीआरएस के सूत्रों ने सोमवार रात दिल्ली पहुंचे राव के 3 दिन के दिल्ली प्रवास के दौरान एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव और बीएसपी प्रमुख मायावती के साथ मुलाकात की संभावना से इनकार नहीं किया. हालांकि मंगलवार को उनकी अखिलेश और मायावती से मुलाकात की अटकलों के बीच एसपी और बीएसपी की ओर से फिलहाल राव द्वारा मुलाकात के लिए समय नहीं मांगे जाने की जानकारी दी गई.

बीएसपी के एक नेता ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष मायावती दिल्ली में ही हैं, लेकिन राव के साथ उनकी मुलाकात का समय अभी तय नहीं है. वहीं एसपी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि अखिलेश लखनऊ में हैं और उनके दिल्ली जाने का फिलहाल कोई कार्यक्रम तय नहीं हुआ है.

KCR-rallya

राव ने बनर्जी से मुलाकात के बाद कहा था कि वह गैर-बीजेपी और गैर-कांग्रेस गठबंधन के लिए विभिन्न दलों के साथ बातचीत का सिलसिला जारी रखेंगे. उन्होंने कहा कि अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए वे बहुत जल्द ही एक ठोस योजना के साथ आएंगे.

पहली बार पार्टी ने नियुक्त किया कार्यकारी अध्यक्ष

विधानसभा चुनावों में तेलंगाना में बहुमत मिलने के बाद केसीआर ने कहा था कि उनका ध्यान राष्ट्रीय स्तर पर एक फेडरल फ्रंट बनाने पर होगा. ऐसा माना जा रहा है कि केसीआर ने अपने बेटे केटी रामाराव को राष्ट्रीय राजनीति में अधिक समय देने के लिए पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया है.

2001 में पार्टी की स्थापना के बाद यह पहली बार है जब टीआरएस ने किसी को कार्यकारी अध्यक्ष है नियुक्त किया है. इस कदम से कयास लगाए जा रहे हैं कि केटीआर सीएम की कुर्सी पर काबिज हो सकते हैं.

(इनपुट भाषा से)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi