S M L

बिहार के पहले मुख्यमंत्री श्री कृष्ण सिंह की जयंती में शामिल हुए तेजस्वी

इस बड़े आयोजन को बिहार की राजनीति में भी अहम माना जा रहा है क्योंकि जयंती के बहाने कांग्रेस एक बार फिर से अगड़ी जाति से आने वाले वोटरों पर नजर डालने का प्रयास करेगी खास कर के भूमिहार समाज के लोगों पर

Updated On: Oct 21, 2018 04:43 PM IST

FP Staff

0
बिहार के पहले मुख्यमंत्री श्री कृष्ण सिंह की जयंती में शामिल हुए तेजस्वी
Loading...

बिहार के पहले मुख्यमंत्री डॉ. श्रीकृष्ण सिंह की 131वीं जयंती पर रविवार को पटना के एसके मेमोरियल हॉल में श्रीकृष्ण सिंह जयंती आयोजन समिति की ओर से कार्यक्रम आयोजित किया गया. अनौपचारिक तौर पर कहें तो इस कार्यक्रम का आयोजन कांग्रेस ने ही किया है क्योंकि आयोजनकर्ता से लेकर कार्यक्रम में शामिल होने वाले अधिकांश चेहरे कांग्रेस से ही हैं.

साल 1946 से 1961 तक बिहार के मुख्यमंत्री रहने वाले श्रीकृष्ण सिंह जाति से भूमिहार हैं. ऐसे में इस बड़े आयोजन को बिहार की राजनीति में भी अहम माना जा रहा है क्योंकि जयंती के बहाने कांग्रेस एक बार फिर से अगड़ी जाति से आने वाले वोटरों पर नजर डालने का प्रयास करेगी खास कर के भूमिहार समाज के लोगों पर.

इस कार्यक्रम का आयोजन कई सालों से आयोजन समिति के अध्यक्ष और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह करते आ रहे हैं. समारोह में सबकी नजरें बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव की तरफ थी, जिन्होंने इस कार्यक्रम हिस्सा लिया..

पिछली बार आयोजन समिति ने इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि तेजस्वी के पिता लालू प्रसाद को बुलाया था जिसको लेकर कई सवाल भी उठे थे. ऐसे में लालू की गैरमौजूदगी में इस बार तेजस्वी को न्योता दिया गया था.

पटना के एसकेएम में हो रहे इस कार्यक्रम को लेकर पार्टी के सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने पूरे राज्य में प्रचार अभियान चलाया था और लोगों को कार्यक्रम में आने का न्योता दिया था. तेजस्वी के अलावा मंच पर कांग्रेस के और भी कई बड़े चेहरे नजर आएं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi