S M L

नीतीश कुमार के लिए घर के बाहर 'नो एंट्री' का बोर्ड लगाना चाहते हैं तेजप्रताप

राबड़ी देवी का आवास मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास से थोड़ी दूरी पर ही है.

Updated On: Jul 02, 2018 07:40 PM IST

Bhasha

0
नीतीश कुमार के लिए घर के बाहर 'नो एंट्री' का बोर्ड लगाना चाहते हैं तेजप्रताप

आरजेडी नेता तेज प्रताप यादव ने कहा है कि वह अपनी मां के घर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए 'नो एंट्री' का बोर्ड लगवाना चाहते हैं. उनका यह बयान पार्टी के रुख से मेल खाता है कि जेडीयू अध्यक्ष के लिए महागठबंधन में वापसी का दरवाजा बंद है. महागठबंधन में कांग्रेस भी शामिल है.

आरजेडी विधायक की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए जेडीयू प्रवक्ता और पार्षद नीरज कुमार ने आज कहा कि उनके घर पर आए दिन सीबीआई , आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय के छापे पड़ते रहते हैं. ऐसी जगह पर कौन जाना चाहेगा?

लालू प्रसाद के बड़े बेटे ने उनकी मां और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को आवंटित 10, सर्कुलर रोड स्थित आवास के बाहर कल संवाददाताओं से कहा कि मैं यहां इस बंगले पर नीतीश कुमार अंकल के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगवाना चाहता हूं. राबड़ी देवी का आवास मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास से थोड़ी दूरी पर ही है.

यादव अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव के पिछले हफ्ते दिए गए बयान के बारे में सवालों का जवाब दे रहे थे. तेजस्वी ने कहा था कि नीतीश कुमार के लिए दरवाजे बंद हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि नीतीश बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए में असहज महसूस कर रहे हैं. गौरतलब है कि आरजेडी ने अगले विधानसभा चुनाव के लिए तेजस्वी यादव का नाम मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के लिए तय किया है.

तेजस्वी ने उन खबरों की पृष्ठभूमि में यह बयान दिया जिसमें कहा जा रहा है कि कांग्रेस , बीजेपी से रिश्ते तोड़ने के बाद कुमार को फिर से गठबंधन में शामिल करना चाहती है.

एक सवाल के जवाब में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने यह स्पष्ट किया कि वह लोकसभा चुनाव लड़ने नहीं जा रहे क्योंकि उनकी बिहार से बाहर निकलने की कोई इच्छा नहीं है. उन्होंने कहा कि वह अगला विधानसभा चुनाव लड़ेंगे.

तेज प्रताप यादव की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर नीरज कुमार ने कहा कि आरजेडी नेता ने जिस भाषा का इस्तेमाल किया है वह उनके संस्कारों को दिखाती है. वह अपने छोटे भाई के मुकाबले कम तवज्जो मिलने को लेकर हताश दिखाई देते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi