S M L

जनता तय करेगी मुख्यमंत्री का चुनाव सही था या नहीं: पन्नीरसेल्वम

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि प्रदेश में अन्नाद्रमुक प्रमुख जे जयललिता के शासन की स्थापना तक उनका संघर्ष जारी रहेगा

Updated On: Feb 18, 2017 09:02 PM IST

Bhasha

0
जनता तय करेगी मुख्यमंत्री का चुनाव सही था या नहीं: पन्नीरसेल्वम

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने कहा है कि प्रदेश की जनता यह फैसला करेगी कि शनिवार के विश्वासमत परीक्षण में पलानीस्वामी सरकार की जीत ‘वैध थी या नहीं’.

पन्नीरसेल्वम ने पत्रकारों से कहा, ‘तमिलनाडु की जनता यह फैसला करेगी कि विधानसभा में पारित प्रस्ताव वैध है या नहीं.'

पलानीस्वामी सरकार आज विधानसभा में ड्रामे और हल्ला हंगामे के बीच 11 के मुकाबले 122 मतों से आसानी से विश्वास मत जीत गयी.

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि प्रदेश में अन्नाद्रमुक प्रमुख जे जयललिता के शासन की स्थापना तक उनका संघर्ष जारी रहेगा.

उन्होंने कहा कि उनके समर्थकों ने अध्यक्ष पी धनपाल से दो अपील की थी जिन्हें उन्होंने ठुकरा दिया.

पहली अपील यह थी कि रिजोर्ट में रह रहे अन्नाद्रमुक के विधायकों को उनके अपने निर्वाचन क्षेत्रों में जाने की अनुमति दी जाए और उसके बाद विश्वास मत के लिए विधानसभा की बैठक हो.

पन्नीरसेल्वम ने कहा, ‘लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार नहीं किया. दूसरी अपील थी कि गुप्त मतदान हो लेकिन वह इसके लिए भी राजी नहीं हुए.’

विधानसभा से जबरन निकाले गए द्रमुक के विधायकों के साथ सहानुभूति जताते हुए पनीरसेल्वम ने कहा, ‘यह लोकतंत्र के खिलाफ है और उन्हें विधानसभा से निकाले जाने के बाद प्रस्ताव पारित हुआ.’

अन्नाद्रमुक महासचिव वी के शशिकला के परिवार के सदस्यों को पार्टी में शीर्ष पदों पर बैठाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘यदि जयललिता जिंदा होती तो वह यह सुनिश्चित करतीं कि इन लोगों की पार्टी तक पहुंच न हो.’

उन्होंने कहा, ‘आज लड़ाई अम्मा और शशिकला के समर्थकों के बीच है. अम्मा की अगुवाई वाली टीम जीतेगी.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi