S M L

एमसीडी चुनाव: स्वराज इंडिया पार्टी ने अपने घोषणापत्र में पर्यावरण को मुख्य मुद्दा बनाया

पार्टी का दावा, पहली बार किसी राजनीतिक पार्टी ने पर्यावरण को बनाया राजनीतिक मुद्दा

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Apr 14, 2017 09:12 PM IST

0
एमसीडी चुनाव: स्वराज इंडिया पार्टी ने अपने घोषणापत्र में पर्यावरण को मुख्य मुद्दा बनाया

स्वराज इंडिया पार्टी ने एमसीडी चुनाव को लेकर अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. स्वराज इंडिया पार्टी ने अपने घोषणापत्र में पर्यावरण को मुख्य मुद्दा बनाया है. स्वराज इंडिया पार्टी का दावा है कि वह देश की ऐसी पहली राजनीतिक पार्टी है जिसने पर्यावरण को मुख्य राजनीतिक मुद्दा बनाया है.

दिल्ली नगर निगम चुनाव में योगेंद्र यादव की अगुवाई वाली स्वराज इंडिया पार्टी अपनी पहली चुनावी लड़ाई लड़ रही है. पार्टी अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने साफ दिल्ली के लिए कई मास्टर प्लान पर चर्चा की.

‘साफ दिल, साफ दिल्ली’ का नारा

yogendra

एमसीडी चुनाव प्रचार के दौरान योगेंद्र यादव

स्वराज इंडिया पार्टी ने ‘साफ दिल, साफ दिल्ली’ का नारा दिया है. कचरा, प्रदूषण, महामारी मुक्त और स्वराज युक्त दिल्ली बनाने की बात कही है. स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहना है कि जहां सभी पार्टियां दिल्ली को एक दूसरे से मुक्त करने में लगी हुई हैं, वहीं स्वराज इंडिया दिल्ली को गंदगी मुक्त करने में लगी हुई है.

दिल्ली एमसीडी चुनाव से ठीक 10 दिन पहले स्वराज इंडिया पार्टी ने अपना घोषणापत्र जारी कर के दिल्ली को स्वच्छ बनाने की कवायद शुरू कर दी है. पिछले 5 मार्च को पार्टी ने ‘साफ दिल, साफ दिल्ली’ के नाम से अपना दृष्टि पत्र जारी किया था.

ये भी पढ़ें: बीजेपी पांच निर्दलीय प्रत्याशियों के लिए भी मांग रही है वोट

स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘दिल्ली की बदहाली के लिए जिम्मेदार पार्टियां फिर से जनता के सामने पांच साल मांग रही हैं. स्वराज इंडिया पार्टी दिल्ली में एक सच्चे विकल्प के तौर पर उभर रही है. पिछले 10 साल से एमसीडी में राज करने वाली बीजेपी पर दिल्ली गंदगी और भ्रष्टाचार के लिए मुख्य तौर पर जिम्मेदार है.’

योगेंद्र यादव आगे कहते हैं, ‘आम आदमी पार्टी की जीत ने जनता में आशा जगाई थी. लेकिन, अरविंद केजरीवाल की सरकार ने पिछले दो सालों में सिर्फ धोखा ही दिया है. कांग्रेस तो दिल्ली की हर समस्या और घोटाले की जड़ है. तीनों पार्टियों के पास न हिसाब देने को कुछ है, न ही आगे की कोई ठोस योजना की कोई रूपरेखा है. सिर्फ स्वराज इंडिया पार्टी के पास ही दिल्ली को साफ करने की ठोस योजना है.’

पर्यावरण के अलावा भी किए और कई वादे

swaraj

स्वराज इंडिया पार्टी ने अपने घोषणापत्र के जरिए और भी कई वायदे किए हैं. दिल्ली को डेंगू मुक्त बनाने के लिए मिशन डेंगू चलाएगी ताकि साल भर मच्छर पैदा होने से रोके जा सकें. मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया की जल्द पहचान कर मुफ्त इलाज की व्यवस्था की जाएगी.

हर घर, दुकान, ऑफिस और खोमचे के लिए एमसीडी ‘टू बिन एंड वन बैग ’ स्कीम चलाएगी. हर बस्ती और कॉलोनी में रोज एमसीडी की कचरा वैन आएगी. घर-घर से कचरे को डब्बे में ले जाएगी. ढलाव में सूखे कूड़े, गीले कूड़े और मलबे के लिए अलग-अलग जगह होंगी.

ये भी पढ़ें: बड़ी पार्टियों का सिरदर्द बने बागी और निर्दलीय

ढलाव पर सीसीटीवी कैमरा लगाया जाएगा ताकि कूड़ा नियमित उठे. साथ ही कूड़े उठाने वाली गाड़ियों में जीपीएस के जरिए निगरानी रखी जाएगी. कच्ची नौकरी पर काम कर रहे सफाई कर्मचारियों को भी पक्के कर्मचारियों के बराबर पैसा मिलेगा.

स्वराज इंडिया पार्टी का कहना है कि हमारे पास कोई सरकार नहीं है. बड़े-बड़े होर्डिंग और टीवी विज्ञापन के पैसे नहीं हैं, लेकिन साफ दिल है और साफ दिल्ली के लिए एक सटीक योजना है.

एमसीडी के 272 सीटों के लिए 23 अप्रैल को वोट डाले जाने हैं. स्वराज इंडिया पार्टी ने पर्यावरण का मुख्य राजनीतिक मुद्दा बना कर दूसरी राजनीतिक पार्टियों के लिए एक नजीर पेश की है. दिल्ली एमसीडी चुनाव में बुनियादी मुद्दों से भटक रही राजनीतिक पार्टियों के लिए स्वराज इंडिया पार्टी का घोषणापत्र आईना दिखाने का काम कर सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi