S M L

'हंसी कोई GST नहीं है, हंसने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं'

रेणुका चौधरी ने कहा कि उनकी हंसी पर मोदी की टिप्पणी के बाद उन्हें देशभर से महिलाओं से अपार समर्थन मिला.

Updated On: Feb 11, 2018 06:04 PM IST

FP Staff

0
'हंसी कोई GST नहीं है, हंसने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं'

संसद में अपने ऊपर हुए ‘रामायण’ कटाक्ष को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार करते हुए कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी ने कहा कि हंसने पर कोई जीएसटी नहीं लगा है और उन्हें हंसने के लिए किसी की अनुमति की जरुरत नहीं है.

उन्होंने यह भी कहा कि उनके खिलाफ मोदी की टिप्पणी महिलाओं के प्रति उनकी मानसिकता दर्शाती है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनकी हंसी पर मोदी की टिप्पणी के बाद उन्हें देशभर से महिलाओं से अपार समर्थन मिला.

उन्होंने कहा, 'मैं पांच बार की सांसद हूं और प्रधानमंत्री मुझे नकारात्मक पात्र के समानांतर बताते हैं, लेकिन वह भूल जाते हैं कि आज महिलाएं बदल गई हैं और उन्हें मालूम है कि अपने लिए कैसे बोलें. यह महिलाओं के प्रति उनकी मानसिकता दर्शाता है.'

उन्होंने कहा, 'यदि आप सही हैं तो यह सर्वत्र झलकता है. अब यही हो रहा है... कैसे और कब का कोई नियम नहीं है. आप हंसे.... और हंसी पर कोई जीएसटी नहीं है. पांच बार सासंद बनने क बाद हंसने के लिए मुझे किसी की इजाजत की जरूरत नहीं है.'

रेणुका ने कहा, 'मेरे पिता ने मुझे लड़का या लड़की के रूप नहीं बल्कि इस देश के नागरिक के रुप में मेरी परवरिश की.' भाषा राज कुमार सुमन

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi