S M L

इंफाल: नेहरू इंस्टिच्यूट के पूर्व निदेशक के खिलाफ आरोप पत्र दायर, छापेमारी में 48 लाख रुपए मिले

इस मामले में एनआईए ने 12 फरवरी 2017 को एक एफआईआऱ दर्ज करवाई थी. और उसमें श्यामो सिंह के आतंकी संगठन कांगलीपक कम्यूनिस्ट पार्टी से होने का आरोप लगाया गया था

Updated On: Dec 28, 2018 04:43 PM IST

FP Staff

0
इंफाल: नेहरू इंस्टिच्यूट के पूर्व निदेशक के खिलाफ आरोप पत्र दायर, छापेमारी में 48 लाख रुपए मिले

एनआईए ने आज आरोपी डॉ मुतुम श्यामो सिंह (पूर्व निदेशक जवाहरलाल नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज हॉस्पिटल, इंफाल) के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया. सिंह की कथित तौर पर कंगालीपाक कम्युनिस्ट पार्टी (केसीपी) के साथ सक्रिय भागीदारी थी इसी आरोप में उनके खिलाफ केस दायर किया गया है.

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चार्जशीट पर विचार के लिए 16 जनवरी की तारीख तय की है. एनआईए ने केसीपी की गतिविधियों की जांच के दौरान लगभग 48 लाख जब्त किए. एनआईए ने आरोप लगाया कि केसीपी के समर्थन में काम करते हुए श्यामो सिंह द्वारा ये राशि वसूली गई. एनआईए ने उसे जुलाई 2018 में गिरफ्तार किया था.

एनआईए (नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी) ने जवाहर लाल नेहरू इंस्टिच्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के पूर्व निदेशक श्यामो सिंह के इंफाल स्थित घर पर सोमवार को छापेमारी की जिसमें उन्हें घर से 40,03,000 (चालीस लाख तीन हजार रुपए) की नकदी और कई संदिग्ध दस्तावेज बरामद हुए. इसके अलावा एक लाख रुपए के पुराने नोट के साथ साथ 700 ग्राम सोना भी बरामद हुआ.

एजेंसी ने इन सभी संपत्तियों को जब्त कर लिया है. एनआईए के अधिकारी व प्रवक्ता आलोक मित्तल ने बताया कि इस मामले में एनआईए ने 12 फरवरी 2017 को एक एफआईआऱ दर्ज करवाई थी. और उसमें श्यामो सिंह के आतंकी संगठन कांगलीपक कम्यूनिस्ट पार्टी से होने का आरोप लगाया गया था.

ये संगठन आतंक फैलाने के लिए फंड, हथियार व विस्फोटक जमा करता है. इस संगठन को केंद्र व राज्य सरकारों ने प्रतिबंधित कर रखा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi