S M L

दोस्ती में दरार: बीएमसी चुनाव बीजेपी से अलग होकर लड़ेगी शिवसेना

बीएमसी चुनाव में सीट बंटवारे पर बात नहीं बनने पर शिवसेना ने बीजेपी से अपनी 25 साल पुरानी दोस्ती तोड़ने का ऐलान किया

Updated On: Jan 26, 2017 09:15 PM IST

FP Staff

0
दोस्ती में दरार: बीएमसी चुनाव बीजेपी से अलग होकर लड़ेगी शिवसेना

महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी की 25 साल की दोस्ती में दरार पड़ गई है. गुरुवार को मुंबई में शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने बीएमसी चुनाव अकेले लड़ने की घोषणा की.

बीएमसी चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर बीते कई दिनों से बीजेपी और शिवसेना में बातचीत चल रही थी. लेकिन उनके बीच इसे लेकर कोई सहमति नहीं बन सकी.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गठबंधन टूटने का ऐलान करते हुए कहा कि भविष्‍य में महाराष्‍ट्र में अब दोनों पार्टियों के बीच कोई गठबंधन नहीं होगा.

उद्धव ने अपने बयानों से महाराष्ट्र में चल रही शिवसेना-बीजेपी गठबंधन की सरकार पर भी सवाल खड़े किये. उन्होंने कहा 'शिवसेना के 50 साल के इतिहास में गठबंधन के चलते 25 साल बर्बाद हुए हैं. हम सत्ता के लालची नहीं हैं. बीजेपी के पास हमारे सैनिकों से लड़ने की चुनौती नहीं है. इसलिए उन्होंने गुंडों को काम पर रखा है. लड़ाई अब शुरू हो चुकी है'.

उद्धव ठाकरे ने आने वाले सभी चुनावों में शिवसेना के अकेले ही भगवा लहराने की बात कही.

बीजेपी ने उद्धव ठाकरे के गठबंधन तोड़ने की घोषणा पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. पार्टी के सांसद किरीट सोमैया ने कहा कि बीजेपी बीएमसी को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने की दिशा में काम कर रही है और अगर इससे किसी को तकलीफ हो रही है तो हम इसपर कोई समझौता नहीं करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi