S M L

शिवसेना ने मोदी पर बोला बड़ा हमला, कहा- PM बनने के बाद उन्होंने पहली बार सच बोला

शिवसेना ने सामना में लिखा है कि पीएम मोदी ने पद संभालने के बाद पिछले चार-पांच सालों में पहली बार सच बोला है

Updated On: Jan 03, 2019 05:59 PM IST

FP Staff

0
शिवसेना ने मोदी पर बोला बड़ा हमला, कहा- PM बनने के बाद उन्होंने पहली बार सच बोला

शिवसेना के नेता संजय राउत ने बुधवार को प्रधानमंत्री के राम मंदिर के बयान पर हमला बोलते हुए कहा था कि उनके लिए भगवान राम से कानून से ज्यादा बड़े नहीं हैं. अब पार्टी के मुखपत्र सामना में भी मोदी के खिलाफ जमकर हमला बोला गया है. सामना के संपादकीय में यहां तक लिख दिया गया है कि नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार सच बोला है.

प्रधानमंत्री ने पहली जनवरी एक इंटरव्यू में बोला था कि राम मंदिर पर पहले न्यायिक प्रक्रिया खत्म हो जाने दीजिए, उसके बाद अध्यादेश लाने पर विचार किया जाएगा. उनके इस बयान पर उनकी सहयोगी पार्टियों और अध्यादेश की मांग कर रहे संगठनों ने काफी विरोध दर्ज कराया है.

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, अब शिवसेना ने सामना में लिखा है कि पीएम मोदी ने पद संभालने के बाद पिछले चार-पांच सालों में पहली बार सच बोला है.

पार्टी के चीफ उद्धव ठाकरे भी अध्यादेश लाकर मंदिर निर्माण की बात कर चुके हैं. उन्होंने कहा है कि कोर्ट में ये मामला दशकों से पड़ा हुआ है. अब वक्त है कि अध्यादेश लाया जाए.

लेकिन मोदी ने कहा कि 'बीजेपी के घोषणा पत्र का लक्ष्य है कि संविधान के तहत इस समस्या का कोई हल ढूंढा जाए. और इसके लिए न्यायिक प्रक्रिया को पूरा होने दीजिए. उसके बाद ये हमारे सरकार की जिम्मेदारी होगी और हम अपनी पूरी कोशिश करने के लिए तैयार हैं.'

लेकिन शिवसेना ने ये कहकर उनकी आलोचना की है कि उनका स्टैंड बिल्कुल अलग है. सामना में लिखा गया है कि उन्हें उम्मीद थी कि इस इंटरव्यू में मोदी राम मंदिर को लेकर कोई बड़ी घोषणा करेंगे लेकिन पीएम ने अपना स्टैंड बदल लिया है.

संपादकीय में लिखा गया है, 'राम मंदिर का मुद्दा सुप्रीम कोर्ट में है. अध्यादेश पर फैसला तभी होगा, जब सुप्रीम कोर्ट कोई फैसला देगी. ये पिछले चार-पांच सालों में पहली बार है कि उन्होंने सच बोला है. राम मंदिर का निर्माण बस चुनावी जुमला था और उनके बयान से साफ है कि अगले चुनावों में भी जुमला ही रहेगा.'

 

शिवसेना ने ये भी आरोप लगाया है कि पीएम मोदी उस इंटरव्यू में डिफेंसिव मोड में रहे और ये उनके चुनावी रैली के भाषण जैसा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi