S M L

भागवत के बयान के बाद केंद्र राम मंदिर के मुद्दे को 'गंभीरता' से ले: शिवसेना

शिवसेना ने अपनी पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में नरेंद्र मोदी सरकार से कहा कि वह भागवत के बयान के बाद अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के मुद्दे को ‘गंभीरता’ से ले

Updated On: Sep 21, 2018 10:11 PM IST

Bhasha

0
भागवत के बयान के बाद केंद्र राम मंदिर के मुद्दे को 'गंभीरता' से ले: शिवसेना

अयोध्या में राम मंदिर का जल्द निर्माण करने की संघ प्रमुख मोहन भागवत की वकालत के दो दिन बाद शिवसेना ने उनकी प्रतिबद्धता की सराहना की. लेकिन इस मुद्दे को लेकर उनके ‘नेताओं’ पर सवाल उठाए.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने कहा कि वह बीजेपी के अगले 50 सालों तक देश पर शासन करने के बारे में पूरे विश्वास से बोलते हैं, लेकिन जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाली संविधान की धारा 370 को खत्म करने और राम मंदिर के मुद्दों पर टिप्पणी करने से ‘बचते’हैं.

बीजेपी के प्रति आलोचनात्मक रूख रखने वाली शिवसेना ने अपनी पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में नरेंद्र मोदी सरकार से कहा कि वह भागवत के बयान के बाद अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के मुद्दे को ‘गंभीरता’ से ले.

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी ने हालांकि राय व्यक्त की कि मंदिर मुद्दे को सिर्फ चुनावी वादे तक सीमित कर दिया गया है और इसलिए यह हिंदुत्व का माखौल उड़ाने वाला मुद्दा बन गया है.

भागवत राजधानी दिल्ली में आरएसएस के कार्यक्रम में बोल रहे थे:

राजधानी दिल्ली में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यक्रम में बुधवार को भागवत ने उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर के जल्द निर्माण की बात कही थी. उन्होंने कहा था, ‘राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द होना चाहिए.’

शिवसेना ने पूछा, ‘संघ प्रमुख द्वारा (राम) मंदिर पर अपनाया गया रूख प्रतिबद्धता से जुड़ा है. लेकिन क्या उस प्रतिबद्धता का एक अंश भी राजनेताओं के अंतर्मन में बचा है?’

मराठी दैनिक ने कहा, ‘शाह देश में 50 सालों तक भाजपा के शासन करने के बारे में विश्वास से बोलते हैं. लेकिन धारा 370 को खत्म करने या राम मंदिर के निर्माण की समय सीमा तय करने की प्रतिबद्धता जाहिर करने से बचते हैं.’

इसमें कहा गया, ‘क्या पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें और सैनिकों के कलम होते सिर भारत का भविष्य हैं?’

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi