S M L

हिमाचल: जयराम सरकार ने पहले ही दिन डीए की रुकी हुई किस्त जारी की

जयराम ठाकुर के सामने सबसे बड़ी चुनौती हिमाचल को कर्ज से उबारना है

Updated On: Dec 28, 2017 10:48 PM IST

FP Staff

0
हिमाचल: जयराम सरकार ने पहले ही दिन डीए की रुकी हुई किस्त जारी की

हिमाचल प्रदेश के नए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर राज्य सचिवालय में पदभार संभालने के एक दिन वीरवार को प्रदेश कर्मचारियों को बड़ी सौगात दी. उन्होंने छोटा शिमला में सचिवालय कर्मचारी संघ के कार्यक्रम में एलान किया कि बीते जुलाई से देय तीन फीसदी डीए की किस्त को जारी करने की निर्देश दे दिए हैं.

मंहगाई भत्ता जनवरी, 2018 के वेतन के साथ नकद प्रदान किया जाएगा, जो पहली फरवरी को देय होगा. महासंघ के अध्यक्ष संजीव शर्मा ने बिन मांगे डीए देने पर सीएम का आभार जताया है.

सीएम ने बताया कि कुल 180 करोड़ की यह किस्त जल्द ही जारी होगी. इस संबंध में अधिकारियों से बात हो गई है. इसके अलावा, उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति, आम नागरिक उनसे मिल सकता है. उनके दरवाजे हमेशा के लिए खुले हैं.

साथ ही उन्होंने प्रदेशभर के कर्मचारियों से प्रशासनिक काम-काज चलाने के लिए सहयोग करने की अपील भी की. अपने संबोधन के दौरान सीएम ने कहा कि सरकार और कर्मचारियों को बेहतर कार्यगुजारी को लेकर भी प्रतिस्पर्धा रहेगी. यह देखना दिलचस्प रहेगा कि कौन इसमें खरा उतरता है. सीएम बोले-पहली बार मुख्यमंत्री पद पर शपथ लेने के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी का आना हिमाचल के लिए गौरव की बात है. यह अलग तरह का अनुभव रहा.

लोगों के सेल्फी खींचने पर ये बोले सीएम

मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण समारोह के बाद सीएम और नेताओं के साथ सर्मथकों द्वारा सेल्फी लेने पर कई अफसरों और नेताओं ने नाखुशी जताई. इस पर सीएम बोले-उन्हें किसी से सेल्फी लेने से कोई गुरेज नहीं है. अगर आज की पीढ़ी और कार्यकर्ता उनसे इसी तरह से मिलना चाहते हैं तो उन्हें कोई परेशानी नहीं है. जो जिस तरह से उनसे मिलना चाहता है, मिल सकता है.

आज दिल्ली जाएंगे सीएम

सीएम का पदभार संभालने के बाद एक दिन बाद वीरवार शाम को जयराम ठाकुर दिल्ली जाएंगे. उन्होंने राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से मिलने का वक्त मांगा है. बता दें कि दिल्ली में जयराम ठाकुर राष्ट्रपति और पीएम से शिष्टाचार मुलाकात करेंगे.

सबसे बड़ी चुनौती कर्ज में दबे हिमाचल को उबारना

इससे पहले, बुधवार को शपथ लेने के बाद सचिवालय में सीएम ने कहा कि उनके लिए कर्ज में दबे हिमाचल को उबारना सबसे बड़ी चुनौती है. कोशिश करेंगे कि कैसे प्रदेश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जा सके.

जयराम ठाकुर ने कहा कि माफिया माफिया के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. जयराम ठाकुर ने कहा कि कभी नहीं सोचा था कि एक दिन इस मुकाम पर पहुंचूंगा. ये पल मुझे भावुक कर देने वाले हैं। मुझे इस बात की बहुत प्रसन्नता है कि प्रदेश की जनता ने ये जिम्मेवारी दी है. इसके लिए जनता के आभारी हूं.

न्यूज 18 से साभार

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi