S M L

शीला दीक्षित ने केजरीवाल पर कसा तंज, कहा-पब्लिक को अच्छा शासन चाहिए, शिकायतें नहीं

शीला दीक्षित ने कहा, कामकाज अपनी जगह है और राजनीति अपनी जगह. आप किसी दूसरे को हमेशा जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते

Updated On: Jun 10, 2018 02:46 PM IST

FP Staff

0
शीला दीक्षित ने केजरीवाल पर कसा तंज, कहा-पब्लिक को अच्छा शासन चाहिए, शिकायतें नहीं

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने अरविंद केजरीवाल के आरोपों पर रविवार को तंज कसा. उन्होंने कहा कि दिल्ली में उनकी भी सरकार ने 15 साल शासन किया लेकिन कभी केंद्र और लेफ्टिनेंट गवर्नर (एलजी) के साथ विवाद की स्थिति पैदा नहीं हुई.

शीला दीक्षित के इस बयान को केजरीवाल के उन बयानों के आलोक में देखा जा सकता है जिसमें वे अक्सर केंद्र सरकार और दिल्ली के एलजी अनिल बैजल पर काम में बाधा डाने का ठीकरा फोड़ते रहते हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री ने केजरीवाल के इन आरोपों को बहानेबाजी बताया है न कि काम. शीला ने कहा, लोगों को शासन दिखना चाहिए न कि शिकायतें. उन्होंने कहा, कामकाज अपनी जगह है और राजनीति अपनी जगह. आप किसी दूसरे को हमेशा जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते.

आम आदमी पार्टी की ओर से दिल्ली को राज्य का दर्जा देने की मांग पर शीला दीक्षित ने कहा कि दिल्ली संघ शासित प्रदेश है. वैधानिक तौर पर कुछ मामलों में केंद्र का अधिकार है. दिल्ली की जनता की भलाई के लिए हमें टकराव की जगह मिलकर काम करना होगा. उन्होंने खुद 15 साल तक शासन किया लेकिन न तो कभी केंद्र से न कभी एलजी से किसी तरह का विवाद हुआ.

शीला दीक्षित शुरू से दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार को काम को लेकर घेरती रही हैं. अप्रैल में उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा था, दिल्ली की चुनी हुई सरकार को राजनीति से ऊपर उठकर शासन देने के लिए केंद्र सरकार और एलजी के साथ मिलकर काम करना चाहिए. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा था, दिल्ली के मुख्यमंत्री को संविधान के दायरे में रहकर काम करना सीखना चाहिए.

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने शनिवार को दिल्ली के लिए राज्य के दर्जे की मांग को लेकर अभियान छेड़ने की बात कही थी. साथ ही दिल्ली जल बोर्ड के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार जानबूझकर रुकावटें पैदा कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi