S M L

यूपी-बिहार के लोगों को सुरक्षा देने में असफल गुजरात सरकार, इस्तीफा दे: शरद यादव

यादव ने गुजरात में उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के लोगों पर हो रहे हमले की निंदा करते हुए इसे राज्य की बीजेपी सरकार की नाकामी बताया

Updated On: Oct 09, 2018 04:27 PM IST

Bhasha

0
यूपी-बिहार के लोगों को सुरक्षा देने में असफल गुजरात सरकार, इस्तीफा दे: शरद यादव

गुजरात में उत्तर भारतीय लोगों पर हो रहे हमलों की खबरों के बीच वरिष्ठ नेता शरद यादव ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी का इस्तीफा मांग लिया है. उन्होंने गुजरात में उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के लोगों पर हो रहे हमले की निंदा करते हुए इसे राज्य की बीजेपी सरकार की नाकामी बताया. उन्होंने कहा कि हिंदी भाषियों को गुजरात में सुरक्षा दे पाने में विफल रहे राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए.

यादव ने मंगलवार को एक बयान में कहा, 'गुजरात सरकार अपने ही देश के नागरिकों को विशेष रूप से हिंदीभाषी लोगों को सुरक्षा देने में विफल रही है, इसलिए इस सरकार को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए.'

उन्होंने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि बिहार, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के श्रमिक वहां से पलायन करने पर विवश हैं. वो भी ऐसे श्रमिक जो बीते कई सालों से गुजरात को अपनी सेवाएं देते आ रहे थे. यादव ने कहा ‘हैरानी की बात यह है कि केंद्र और राज्य में बीजेपी की सरकारें हैं फिर भी अन्य राज्यों के श्रमिक सुरक्षित नहीं हैं.’

उन्होंने गुजरात में बीजेपी सरकार पर दलितों और अल्पसंख्यकों की सुरक्षा हमेशा ताक पर रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य से श्रमिकों के पलायन से पता चलता है कि बीजेपी सरकार गरीब और समाज के वंचित तबके के लोगों के प्रति संवेदनशील नहीं है. यादव ने इसे देश में आपसी सौहार्द को बिगाड़ने और समाज को विभाजित करने का प्रयास करार देते हुए इस प्रवृत्ति को लोकतंत्र के लिए खतरनाक बताया.

बता दें कि पिछले महीने 14 महीने की बच्ची के साथ हुए रेप में बिहार के मूल निवासी को पकड़ा गया था, जिसके बाद राज्य में जगह-जगह तनाव फैल गया. यहां उत्तर भारतीयों पर हमले की खबरें सामने आई हैं. कहा जा रहा है कि उन्हें वापस अपने गृहराज्य जाने के लिए मजबूर किया जा रहा है. रिपोर्ट्स है कि अबतक राज्य से लगभग 40,000 उत्तर भारतीय लोग पलायन कर चुके हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi