S M L

शशिकला के भतीजे दिनाकरन पर लगा पार्टी सिंबल के लिए रिश्वत देने का आरोप, केस दर्ज

दिनाकरन पर आरके नगर उपचुनाव से पहले एआईएडीएमके का चुनाव चिन्ह हासिल करने के लिए रिश्वत देने का आरोप है.

Updated On: Apr 17, 2017 12:03 PM IST

FP Staff

0
शशिकला के भतीजे दिनाकरन पर लगा पार्टी सिंबल के लिए रिश्वत देने का आरोप, केस दर्ज

एआईएडीएमके की जनरल सेकेट्ररी और जेल में बंद शशिकला के भतीजे टीटीवी दिनाकरन के खिलाफ दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने रिश्वत का केस दर्ज किया है.

दिनाकरन पर आरके नगर उपचुनाव से पहले एआईएडीएमके पार्टी का चुनाव चिन्ह हासिल करने के लिए रिश्वत देने का आरोप लगा है.

कहा जा रहा है कि दिनाकरन ने इस केस में दोनों पार्टी की ओर से मध्यस्थता करने वाले सुकेश चंदेर को 60 करोड़ रुपये देने की पेशकश की थी.

सुकेश चंदर ने दिनाकरन को कहा था कि अगर वो 60 करोड़ रुपये देते हैं तो अन्‍नाद्रमुक का चुनाव चिह्न शशिकला कैंप को मिल जाएगा.

दिनाकरन लगातार आरोपी के साथ संपर्क में थे और उन्‍हें जांच के दौरान पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है.

यह चुनाव चिह्न चुनाव आयोग ने पिछले महीने जब्‍त कर लिया था. दिनाकरन शशिकला कैंप से हैं. अन्‍नाद्रमुक का चुनाव चिह्न पौधे की दो पत्तियां हैं.

जयललिता के निधन के बाद पार्टी में दो खेमे में बंट गया है. एक खेमा शशिकला के नेतृत्‍व में जबकि दूसरा पूर्व सीएम ओ पन्‍नीरसेल्‍वम के नेतृत्‍व में है.

दोनों खेमे दो-पत्तियों वाले चुनाव-चिह्न पर दावा कर रहे हैं. आरके नगर उपचुनाव से पहले आयोग ने इस निशान को जब्‍त कर लिया.

सुकेश चंद्रशेखरन को दिल्‍ली पुलिस ने रविवार रात को रिश्वत देने के आरोप में गिरफ्तार किया था. पुलिस ने दिनाकरन के पास से 1.3 करोड़ रुपये बरामद किए गए हैं.

हालांकि, दिनाकरन ने सुकेश चंदर नाम के किसी भी शख्स को जानने से इंकार किया है.

पुलिस के मुताबिक दिनाकरन ये पैसे चुनाव आयोग के अधिकारियों को देने की योजना बना रहे थे.

न्यूज-18 की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने दिनाकरन के पास से दो लग्‍जरी गाडि़यां भी जब्‍त की हैं. इनमें से एक गाड़ी राजस्‍थान और दूसरी हरियाणा नंबर की है.

पुलिस ने इससे पहले तमिलनाडु में लगभग 50 ठिकानों पर छापे मारे थे जहां से साढ़े पांच करोड़ रुपये जब्‍त किए गए थे.

यह पैसे राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री विजय भास्‍कर के करीबियों के पास से मिले हैं, विजयभास्‍कर के दिनाकरन के साथ नजदीकी संबंध है.

दिनाकरन पर इससे पहले भी आरके नगर चुनाव प्रचार के दौरान वोटरों को रिश्वत देने का आरोप लगा था.

हाल ही में वायरल हुए एक वीडियो में एक व्यक्ति को आरके नगर चुनाव क्षेत्र में मतदाताओं को दो-दो हजार के नोट बांटते हुए दिखाया गया है.

वीडियो में नोट बांटने वाला व्यक्ति लोगों से हैट चुनाव चिह्न पर बटन दबाने के लिए कह रहा था.

जयललिता की मौत के बाद खाली हुई सीट आरके नगर में होने वाले उपचुनाव में दिनाकरन शशिकला नटराजन खेमे से चुनाव मैदान में खड़े हैं.

दिनाकरन का चुनाव चिन्ह हैट है लेकिन दिनाकरन ने खुद पर लगे ऐसे सभी आरोपों को खारिज किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi