S M L

जो बेटा अपने बाप का नहीं हो सका वो आपका क्या होगा: मुलायम

मैं अब अखिलेश के भरोसे नहीं जनता के भरोसे पर रहूंगा

Updated On: Apr 01, 2017 06:12 PM IST

FP Staff

0
जो बेटा अपने बाप का नहीं हो सका वो आपका क्या होगा: मुलायम

यूपी विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद भी मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के बीच की तल्खियां शायद कम नहीं हुई है. कम के कम मुलायम के ताजा बयान से तो यही साफ होता है.

मैनपुरी में आयोजित एक कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव ने कहा कि जो बेटा अपने बाप का नहीं हो सकता है, वह आपका क्या होगा. पिछले कुछ साल में मेरा इतना अपमान नहीं हुआ.

यूपी चुनाव में प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी रैली में कहा था कि जो बेटा बाप का नहीं हुआ वो आपका क्या होगा. और सही कहा था.

अखिलेश ने इस बात का कभी खंडन नहीं किया. हमारे लोगों ने ही लोगों को ये बोलने का मौका दिया. मोदी के एक बयान का उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में बड़ा असर हो गया.

modi, mulayam and akhilesh

साफ छलका मुलायम का दर्द

मुलायम के इस बयान के बाद विधानसभा चुनाव में पार्टी को मिली करारी हार के बाद उनका दर्द झलक आया.

मुलायम ने कहा कि मेरा इतना अपमान कभी नहीं हुआ. यही वजह है कि पार्टी के अंदर की कलह से समाजवादी पार्टी को चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा.

उन्होंने कहा, 'मैंने अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाया. किसी पिता ने अपने रहते हुए बेटे के लिए पद का त्याग नहीं किया है. अखिलेश ने बदले में क्या किया?'

एसपी संरक्षक ने सीधे तौर पर इसके पीछे अखिलेश-रामगोपाल की साजिश का आरोप लगाया. इस दौरान वे मैनपुरी से चुनाव लड़ने का संदेश भी दे गए. उन्होंने कहा कि अभी कुछ दिन इंतजार के बाद समर्थकों से बात कर करेंगे और उसके बाद कोई फैसला लेंगे.

Akhilesh Mulayam 1

अब सिर्फ जनता पर भरोसा

मुलायम ने कहा कि अखिलेश के पास बुद्धि है पर वोट नहीं. अखिलेश ने कांग्रेस से गठबंधन किया, जिसने मुझ पर तीन बार जानलेवा हमला करवाया. मैं अब अखिलेश के भरोसे नहीं जनता के भरोसे पर रहूंगा.

जितना मेरा अपमान अब हुआ, पहले कभी नहीं हुआ. अपनों ने ऐसा किया इसलिए कहने किससे जाते. दो लोगों ने मेरा अपमान किया. वो कौन हैं ये सब जानते हैं. मैं जनता की भावनाओं को ध्यान में रख फैसला करूंगा. कोई अपने बेटे को मुख्यमंत्री नहीं बनाता लेकिन मैंने बनाया. जो मेरे साथ हुआ वो सबके सामने है.

पूरे भाषण में मुलायम ने चार बार अपमान की बात दोहराई. मुलायम ने कहा शिवपाल इतना अच्छा काम करते थे. अखिलेश ने उन्हें मंत्रिमंडल से निकाल दिया. जो नरेंद्र मोदी और अन्य नेता कह रहे हैं जो अपने बाप का नहीं हुआ वो किसी का नहीं हो सकता. ये कहने का मौका मेरे अपनों ने ही दिया.

मुलायम ने कहा कि अखिलेश यादव ने अपने उस चाचा को ही मंत्री पद से हटा दिया था, जिसमें उसको जीवन की सही राह दिखाई. मेरी जिंदगी में ही मेरा सबसे अधिक अपमान हुआ है.

सुप्रीम कोर्ट ही सुलझा सकती है अयोध्या का मामला

मुलायम सिंह यादव ने अयोध्या मामले को लेकर कहा कि मेरी भी कोशिश रही थी अयोध्या मामले को सुलझाने की. अब तो सुप्रीम कोर्ट के सिवा और कोई पार्टी अयोध्या मामला नहीं सुलझा सकती. वहां पर सुरक्षा बलों की कार्रवाई में 16 लोग मारे गए थे जबकि 84 लोग घायल हुए थे. अब तो सुप्रीम कोर्ट का फैसला सभी मानेंगे.

साभार: न्यूज़18 हिंदी 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi