S M L

बिहार: सीट शेयरिंग से असंतुष्ट उपेंद्र कुशवाहा नहीं रहेंगे NDA के साथ?

आरएलएसपी के अध्यक्ष ने कहा, 'मैं शनिवार को पटना में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ अपने विचारों पर चर्चा करूंगा और आप एक बड़े फैसले की उम्मीद कर सकते हैं'

Updated On: Nov 17, 2018 02:13 PM IST

FP Staff

0
बिहार: सीट शेयरिंग से असंतुष्ट उपेंद्र कुशवाहा नहीं रहेंगे NDA के साथ?

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीटों के बंटवारे को लेकर बिहार की सियासत में घमासान जारी है. इस बीच केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने सीट शेयरिंग से असंतुष्टि पर एनडीए गठबंधन से अलग होने के संकेत दिए हैं.

कुशवाहा ने कहा कि उन्होंने इस बारे में अपना मन बना लिया है. न्यूज18 से खास बातचीत में उन्होंने कहा, 'मैं शनिवार को पटना में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ अपने विचारों पर चर्चा करूंगा और आप एक बड़े फैसले की उम्मीद कर सकते हैं.'

हालांकि कुशवाहा ने इसकी आधिकारिक घोषणा करने से पूर्व बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से एक बार फिर मुलाकात करने का समय मांगा है. कुश्वाहा को उम्मीद है कि उन्हें वक्त मिलेगा. उनका मानना है कि एनडीए से सीट शेयरिंग पर उनकी बात बन जाएगी और अगर नहीं बनी तो वे प्रधानमंत्री से भी बात करेंगे.

वहीं जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) इस दाव में है कि आरएलएसपी की दोनों सीटें उसके पाले में चली आए. ऐसे में जेडीयू के बिहार के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कुशवाहा को लेकर शुक्रवार को बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि इनके जाने से एनडीए की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

दूसरी ओर आरएलएसपी नेता प्रदीप मिश्र का कहना है कि उनकी पार्टी वशिष्ठ नारायण सिंह की बातों को गंभीरता से नहीं लेती है. उनकी बात बीजेपी से हो रही है क्योंकि आरएलएसपी का गठबंधन बीजेपी से ही है. उन्होंने ये भी दावा किया कि मामले को खत्म करने के लिए जरूरत हुई तो पार्टी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी बात करेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi