विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

रविशंकर प्रसाद बोले, मुस्लिम हमें वोट नहीं देते, फिर भी उनका सम्मान

प्रसाद ने कहा कि हम भारत की बहुलता और संस्कृति को नमन करते हैं.

Bhasha Updated On: Apr 22, 2017 10:39 AM IST

0
रविशंकर प्रसाद बोले, मुस्लिम हमें वोट नहीं देते, फिर भी उनका सम्मान

केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद का मुलसमानों को लेकर दिया गया एक बयान सोशल मीडिया पर खूब ट्रेंड कर रहा है. उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा कि मुसलमान भाजपा को वोट नहीं देते फिर भी हमारी सरकार ने उन्हें समुचित सम्मान दिया है.

क्या हमने उन्हें बर्खास्त किया? हीरो मोटोकॉर्प के कार्यक्रम माइंडमाइन समिट में एक सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमारे 13 मुख्यमंत्री हैं. हम देश चला रहे हैं. इसके बावजूद क्या हमने उद्योग या सेवा क्षेत्र में काम कर रहे किसी मुसलमान को परेशान किया.

संस्कृति और बहुलता पर विकास के प्रभाव को लेकर एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि क्या हमने उन्हें बर्खास्त किया? हमें मुसलमानों के वोट नहीं मिलते हैं. मैं स्पष्ट रूप से इसे स्वीकार करता हूं, लेकिन हमने उन्हें पूरा सम्मान दिया है या नहीं?

मुस्लिम युवक सामुदायिक सेवा केंद्र चला रहे हैं प्रसाद ने कहा कि हम भारत की बहुलता और संस्कृति को नमन करते हैं. इसे देखने के दो तरीके हैं. आज मैं स्पष्ट बोलूंगा. हमारे खिलाफ लंबे वक्त से अभियान चल रहा है, लेकिन हम भारत की जनता के आशीर्वाद से यहां हैं. प्रसाद ने कहा कि बतौर सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री वह कई मुस्लिम बहुल गांव गए, जहां मुस्लिम युवक सामुदायिक सेवा केंद्र चला रहे हैं, जो लोगों को इंटरनेट के माध्यम से सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने में मदद करते हैं.

कांग्रेस ने जताई नराजगी केंद्रीय मंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा जलपाईगुड़ी के चाय बगान में काम करने वाले मुस्लिम कर्मचारी करीमुल हक को उसके अनुकरणीय काम के लिए चुने जाने का जिक्र भी किया. उन्होंने कहा, हक ने अपनी मोटरसाइकिल को एम्बुलेंस में बदल लिया है और बीमारों को अस्पताल ले जाते हैं. इस तरह उन्होंने करीब 2000 लोगों की जीवनरक्षा की है. वहीं प्रसाद के बयान पर कांग्रेस ने नाराजगी जताई है. पार्टी नेता शकील आहमद ने कहा, यही भाजपा का असली चेहरा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi