S M L

राजनीति के चश्मे से न देखें, तीन तलाक बिल किसी धर्म के खिलाफ नहीं: रविशंकर प्रसाद

संसद की कार्यवाही में तीन तलाक बिल को लेकर हुई बहस में कानून मंत्री ने कहा कि तीन तलाक बिल को राजनीति के चश्मे से नहीं देखना चाहिए.

Updated On: Dec 27, 2018 03:03 PM IST

FP Staff

0
राजनीति के चश्मे से न देखें, तीन तलाक बिल किसी धर्म के खिलाफ नहीं: रविशंकर प्रसाद

संसद की कार्यवाही में तीन तलाक बिल को लेकर हुई बहस में कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि ट्रिपल तलाक बिल को राजनीति के चश्मे से नहीं देखना चाहिए. उन्होंने कहा कि यह बिल किसी समुदाय के खिलाफ नहीं है.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने तीन तलाक बिल को लेकर लोकसभा में कहा 'यह बिल किसी समुदाय, धर्म या मान्यता के खिलाफ नहीं है. यह बिल महिलाओं के अधिकारों और न्याय के बारे में है.' उन्होंने कहा '20 इस्लामिक राष्ट्रों ने तीन तलाक को बैन किया है, फिर भारत जैसा धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र क्यों नहीं कर सकता? मेरा निवेदन है कि इसे राजनीति के चश्मे से नहीं देखना चाहिए.

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की बात करती है. मैं नारी सम्मान की बात करता हूं. तीन तलाक बिल का किसी धर्म से कोई लेना-देना नहीं है. बिल पर विपक्ष के साथ चर्चा को तैयार हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि तीन तलाक का दुरुपयोग हो रहा है. मुस्लिम महिलाओं को कभी ईमेल से तो कभी व्हाट्सएप से तलाक दिया जा रहा है इसलिए सरकार ने इस पर रोक लगाने के मकसद से तीन तलाक बिल पेश किया.

यह भी पढ़ें:

तीन तलाक पर बोले आजम खान- कुरान के अलावा कोई और कानून मंजूर नहीं

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi