S M L

अगले 10 सालों तक नरेंद्र मोदी का कोई विकल्प नहीं: रामदास अठावले

अठावले ने कहा कि नरेंद्र मोदी आज भी जनता में काफी लोकप्रिय हैं, अगले 10 साल तक उनका कोई विकल्प नहीं है.

Updated On: Dec 21, 2018 03:36 PM IST

Bhasha

0
अगले 10 सालों तक नरेंद्र मोदी का कोई विकल्प नहीं: रामदास अठावले

एनडीए में शामिल आरपीआई (ए) के अध्यक्ष रामदास अठावले ने आने वाले दिनों में एनडीए के विस्तार का दावा करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी आज भी जनता में काफी लोकप्रिय हैं और अगले 10 साल तक उनका कोई विकल्प नहीं है.

अठावले ने संसद भवन परिसर में कहा कि कुशवाहा का एनडीए से अलग होने के पीछे मोदी से नाराजगी नहीं है बल्कि इसका कारण गठबंधन में जेडीयू के आने के बाद उम्मीद के अनुरूप सीटें नहीं मिलना है. चंद्रबाबू नायडू की तेलुगु देशम पार्टी आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा की मांग पर अलग हुई. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में ऐसी संभावना है कि वाईएसआर कांग्रेस, AIADMK, बीजेडी एनडीए में शामिल हो सकती है .

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री ने विपक्ष के महागठबंधन की कवायद का जिक्र करते हुए कहा कि महागठबंधन केवल फोटो का अवसर है जिसके साथ आने की संभावना बेहद कम है. हाल में कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव परिणामों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि यह नरेंद्र मोदी की असफलता नहीं है. यह परिणाम राज्यों की समस्या से जुड़े थे. राजस्थान और मध्यप्रदेश में बीजेपी ने कांग्रेस को अच्छी टक्कर दी. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के जरिए प्रधानमंत्री पर बार-बार निशाना साधना अच्छी बात नहीं है. भारत का जनमानस इस तरह के आचरण को स्वीकार नहीं करता है. इसका आने वाले दिनों में उन्हें नुकसान उठाना पड़ सकता है .

अठावले ने कहा कि नरेंद्र मोदी आज भी जनता में काफी लोकप्रिय हैं, अगले 10 साल तक उनका कोई विकल्प नहीं है. 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद वे फिर देश के प्रधानमंत्री बनेंगे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस यह दुष्प्रचार कर रही है कि बीजपी संविधान बदल देगी. सरकार के साढ़े चार साल हो गए लेकिन ऐसी कोई घटना सामने नहीं आई. दलितों पर अत्याचार के विषय पर उन्होंने कहा कि जब तक जातपांत रहेगा, ऐसी घटना सामने आएगी. ऐसी घटनाएं कांग्रेस के शासनकाल में भी थी, कुछ घटनाएं हाल में भी सामने आई है. सामाजिक न्याय स्थापित करने के लिए जातपांत को खत्म करना जरूरी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi