S M L

स्वरूपानंद का अल्टीमेटम: 21 फरवरी को शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण

विनय कटियार ने कहा, यह दिलचस्प है कि VHP की धर्म संसद शुरू होने से 24 घंटे पहले स्वरूपानंद सरस्वती ने धर्म संसद बुलाकर मंदिर बनाने का ऐलान कर दिया

Updated On: Jan 30, 2019 08:09 PM IST

FP Staff

0
स्वरूपानंद का अल्टीमेटम: 21 फरवरी को शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण

द्वारका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद ने ऐलान किया है कि वे लोग 21 फरवरी को राम मंदिर का निर्माण शुरू करेंगे. स्वरूपानंद ने बताया कि करीब 500 साधु-संत अयोध्या जाएंगे और मंदिर बनाने का काम शुरू करेंगे. प्रयागराज में आयोजित धर्म संसद में मंदिर बनाने का फैसला किया गया है. यह धर्म संसद स्वरूपानंद सरस्वती ने बुलाया है.

स्वरूपानंद ने बताया कि बसंत पंचमी के दिन शाही स्नान के बाद अयोध्या की तरफ साधुओं की टोली कूच करेगी. दिलचस्प है कि वीएचपी की धर्म संसद 31 जनवरी और 1 फरवरी को होने वाली थी. उससे पहले ही स्वरूपानंद ने अपनी धर्म संसद बुला ली.

अयोध्या मामले में याचिकाकर्ता इकबाल अंसारी से जब यह पूछा गया कि क्या यह कोशिश सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है. इस पर अंसारी ने कहा, यह मामला अभी सुप्रीप कोर्ट में है और शांति व्यवस्था बनाने की जिम्मेदारी सरकार की है.

क्या कहा विनय कटियार ने?

इस मामले में जब CNN-News18 ने विनय कटियार से बात की तो उन्होंने कहा कि सब जानते हैं कि स्वरूपानंद सरस्वती कांग्रेसी हैं. वह कांग्रेस का एजेंडा चलाते हैं. कटियार ने कहा, वो लोग ऐसी स्थिति पैदा करना चाहते हैं ताकि मंदिर में अड़ंगा लग जाए.

उन्होंने कहा, यह दिलचस्प है कि VHP की धर्म संसद शुरू होने से 24 घंटे पहले स्वरूपानंद सरस्वती ने धर्म संसद बुलाकर मंदिर के शिलान्यास का ऐलान कर दिया. उन्होंने कहा, मंदिर का शिलान्यास  पहले ही हो चुका है. वहां रेत और गिट्टी गिराई जा चुकी है. ऐसे में अब वो क्या शिलान्यास करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi