S M L

राम माधव का बयान केंद्र की विफलता को छिपाने का प्रयास है: नेशनल कॉन्फ्रेंस

राम माधव ने हाल ही में कहा था कि क्षेत्रीय पार्टियां यानी पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस जम्मू-कश्मीर में निकाय चुनावों को विफल करने का प्रयास कर रही हैं

Updated On: Sep 29, 2018 09:18 PM IST

Bhasha

0
राम माधव का बयान केंद्र की विफलता को छिपाने का प्रयास है: नेशनल कॉन्फ्रेंस

नेशनल कॉन्फ्रेंस ने बीजेपी के महासचिव राम माधव के निकाय चुनावों के संबंध में की गई टिप्पणी की तीखी आलोचना करते हुए शनिवार को कहा कि यह राज्य में स्थिति को सामान्य बनाने में केंद्र की विफलता को छिपाने का प्रयास है. दरअसल माधव ने कहा था कि क्षेत्रीय पार्टियां जम्मू कश्मीर में निकाय चुनावों को विफल करने का प्रयास कर रही हैं.

नेशनल कॉन्फ्रेंस के मुख्य प्रवक्ता आगा सैयद रूहुल्ला मेंहदी ने एक बयान में कहा, ‘बीजेपी खुद ही पूर्व अतिवादियों से संपर्क में है इसलिए उसे नेशनल कॉन्फ्रेंस के खिलाफ गलत आरोप लगाने का नैतिक अधिकार नहीं है. बीजेपी ने शहरी स्थानीय निकाय चुनावों के लिए जिन उम्मीदवारों को टिकट दिए हैं उनमें से अधिकतर की पृष्ठभूमि पर सवालिया निशान हैं और उनके हमारी सच्चाई पर सवाल उठाने का साहस है.’

माधव ने शुक्रवार को आरोप लगाए थे कि नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपीपी के कार्यकर्ता आंतकवादियों की तरह जम्मू-कश्मीर में निकाय चुनावों को विफल करने की कोशिश कर रहे हैं और निर्दलीय उम्मीदवारों को धमका रहे हैं. उन्होंने कहा था कि वंशवाद वाली दो पार्टियां राज्य में जमीनी लोकतंत्र के खिलाफ हैं. नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपीपी ने शहरी स्थानीय निकाय चुनावों और पंचायत चुनावों के बहिष्कार की घोषणा की है.

मेंहदी ने कहा बीजेपी नेता की ओर से इस प्रकार के बयान दिखाते हैं कि वह राज्य के वास्तविक हालात के प्रति कितने अनभिज्ञ और भ्रमित है. उन्होंने कहा, ‘नेशनल कॉन्फ्रेंस ने किसी के सामने आत्मसमर्पण नहीं किया और आंतकवाद की शुरुआत से उसने बड़ी संख्या में अपने पदाधिकारियों को खोया है. इतिहास इस बात का गवाह है कि नेशनल कॉन्फ्रेंस कभी आक्रमक नहीं हुई. उसने तीन दशक से सहा है और घातक रूप से सहा है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi