विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

अपने काम को पीएम और जनता तक पहुंचा पाने में नाकामयाब रहा: रूडी

रूडी ने अपने इस्तीफे पर कहा- अगर मेरे बॉस को लगता है कि मैं फेल हुआ हूं तो मैं अपना सर्टिफिकेट नहीं लूंगा

FP Staff Updated On: Sep 05, 2017 07:27 PM IST

0
अपने काम को पीएम और जनता तक पहुंचा पाने में नाकामयाब रहा: रूडी

मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले पूर्व कैबिनेट मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने पहली बार इसपर बात की है. रूडी ने कहा कि वो अपने काम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोगों तक पहुंचाने में नाकामयाब रहे हैं. राजीव प्रताव रूडी समेत 6 मंत्रियों को पिछले हफ्ते अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. माना गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा प्रदर्शन समीक्षा कार्यक्रम के बाद उनसे इस्तीफा लिया गया.

रूडी को उनके पद से हटाकर कैबिनेट विस्तार में धर्मेंद्र प्रधान को यह पद सौंप दिया गया है. एनडीटीवी के मुताबिक रूडी ने कहा कि अपने कार्यकाल में मैंने बेहतरीन करने की कोशिश की थी. काम में कामयाबी मिलने के बावजूद इसमें बदलाव देखने के लिए कुछ समय की आवश्यकता थी.

रूडी ने यह भी कहा कि अगर मेरे बॉस को लगता है कि मैं फेल हुआ हूं तो मैं अपना सर्टिफिकेट नहीं लूंगा. बॉस हमेशा सही होते हैं. अपने कार्यकाल का बचाव करते हुए रूडी ने कहा कि जब 2014 में मुझे मंत्री बनाया गया था तो मुझे अधिकारियों की तलाश करनी थी, फिर एक नक्शा और ढांचा तैयार करना था. ताकि मुझे सौंपे गए विभाग की जिम्मेदारी हम अच्छे से निभा सकें.

modi new cabinet

रूडी से जब 2019 लोकसभा चुनावों में उनकी भूमिका के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वो नहीं जानते की उन्हें चुनावों में क्या भूमिका अदा करनी होगी. लेकिन पार्टी मुझे जो भी भूमिका देगी, उसे मैं स्वीकार करुंगा.

बीते रविवार को मोदी मंत्रिमंडल का फेरबदल और विस्तार किया गया. इसमें निर्मला सीतारमण को देश का नया रक्षा मंत्री बनाया गया है. तीन अन्य मंत्रियों को भी प्रमोशन देकर कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. इसके अलावा मोदी मंत्रिमंडल में नौ नए चेहरों को भी शामिल किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi