S M L

राजनीति में रजनीकांत: सिर्फ राजनीतिक मजाक है

रजनीकांत ने कहा था, 'यदि भगवान चाहते हैं कि मैं राजनीति में शामिल होऊं तो मैं ऐसा कर सकता हूं

Updated On: May 15, 2017 09:43 PM IST

FP Staff

0
राजनीति में रजनीकांत: सिर्फ राजनीतिक मजाक है

बीजेपी नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने सुपरस्‍टार रजनीकांत के राजनीति में शामिल होने की संभावना को लेकर दिए बयान को राजनीतिक मजाक करार दिया है. जबकि सूत्रों का कहना है कि बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और आरएसएसस से जुड़े विचारक एस गुरुमूर्ति रजनीकांत के संपर्क में हैं.

स्‍वामी ने रजनी को राजनीति से दूर रहने की सलाह दी है. रजनीकांत ने राजनीति में शामिल होने को लेकर कहा था, 'यदि भगवान चाहते हैं कि मैं राजनीति में शामिल होऊं तो मैं ऐसा कर सकता हूं.' उन्‍होंने अपने फैंस से बातचीत के दौरान यह बयान दिया था.

रजनीकांत केवल मन बहलाने के लिए हैं

बीजेपी सांसद सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने कहा, 'रजनी की कोई स्‍पष्‍ट विचारधारा नहीं है. वह कई पार्टियों के साथ रह चुके हैं और उनकी कोई विचारधारा नहीं है. रजनी केवल मन बहलाने के लिए हैं. रजनीकांत तो तमिल भी नहीं हैं वे तो बेंगलुरु से आए मराठी हैं.'

स्‍वामी ने रजनीकांत की फैन फॉलोइंग को लेकर भी निशाना साधा और उन्‍हें पसंद करने वाले लोग विचारधारा के आधार पर उनके साथ नहीं हैं.

बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और आरएसएसस से जुड़े विचारक एस गुरुमूर्ति रजनीकांत के संपर्क में हैं. गुरुमूर्ति ने तो रजनीकांत के राजनीति से जुड़ने को लेकर दिए बयान का स्‍वागत भी किया था.

रजनीकांत पीएम की तरह दे रहे हैं बयान

उन्‍होंने कहा कि तमिल फिल्‍मों के सुपरस्‍टार सोच-विचारकर बयान दे रहे हैं. उन्‍होंने कहा था कि रजनीकांत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह बयान दे रहे हैं.

रजनीकांत कई पार्टियों के साथ जुड़ाव रख चुके हैं. पीवी नरसिम्हा राव सरकार के समय रजनी ने कांग्रेस का समर्थन किया था. बाद में वे डीएमके की ओर झुक गए थे.

2014 में लोकसभा चुनावों से पहले चेन्‍नई में उन्‍होंने नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी. इसके बाद उनके बीजेपी के साथ जाने की अटकलें लगाई गई थीं. लेकिन मोदी और रजनी दोनों की ओर से कहा गया कि यह केवल शिष्‍टाचार मुलाकात थी.

फरवरी 2016 में आरके नगर उपचुनाव से पहले भाजपा उम्‍मीदवार ने रजनीकांत से मुलाकात की थी. हालांकि बाद में यह उपचुनाव रद्द कर दिया गया था.

न्यूज़ 18 साभार

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi