S M L

पिछले 3 सालों में 8 हजार बच्चों और 6, 600 महिलाओं का हुआ अपहरण

प्रश्नकाल के दौरान बच्चों और महिलाओं के गुमशुदगी और अपहरण के मामलों पर पूछे गये प्रश्न का उत्तर देते हुए कटारिया ने यह बताया

Bhasha Updated On: Feb 28, 2018 07:38 PM IST

0
पिछले 3 सालों में 8 हजार बच्चों और 6, 600 महिलाओं का हुआ अपहरण

राजस्थान विधानसभा में बुधवार को गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने सदन को बताया कि पिछले तीन वर्षों में प्रदेश में 8 हजार से ज्यादा बच्चों और 6,600 महिलाओं के अपहरण के मामले दर्ज किए गए हैं. प्रश्नकाल के दौरान बच्चों और महिलाओं के गुमशुदगी और अपहरण के मामलों पर पूछे गये प्रश्न का उत्तर देते हुए कटारिया ने यह बताया. कटारिया ने कहा कि पिछले तीन वर्षो में 476 बच्चों और 21, 869 महिलाओं के गुमशुदगी के मामले दर्ज किये गए. और इसी अवधि के दौरान 8 हजार 56 बच्चों और 6, 683 महिलाओं के अपहरण के मामले दर्ज किये गए.

कटारिया ने कहा कि गुमशुदा बच्चों को ढूंढने के लिये मुस्कान, स्माइल और मिलाप जैसी सफल मुहिम चलाने के साथ-साथ सभी जिलों में मानव तस्करी निरोधक इकाई की स्थापना की गई है. उन्होंने बताया कि उनके विभाग के प्रयासों से अपहृत और गायब हुए 7, 995 बच्चे और 24, 777 महिलाओं की बरामदगी की गई. अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मानव तस्करी निरोधक इकाई की ओर से गुमशुदा हुए बच्चों को ढूंढने, अनुसंधान और पुनर्वास के लिए मानक संचालन प्रक्रिया के तहत एक सर्कुलर जारी किया गया है.

कटारिया के जवाब के बीच में हस्तक्षेप करते हुए रायसिंह नगर विधानसभा क्षेत्र से जमीदारा पार्टी की विधायक सोना देवी ने गृहमंत्री से वर्ष 2000 से गुमशुदा हुए अपने पांच वर्ष के भाई को ढूंढने का आग्रह किया. भारीपन और आंखों में आंसू के साथ विधायक ने मंत्री से मामले को देखने का आग्रह किया. इस पर कटारिया ने कहा कि हालांकि मामला पुराना है और उनके संज्ञान में नहीं था. फिर भी इस मामले में निश्चित तौर पूरे प्रयास किये जायेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi