S M L

Rajasthan Results: सिर्फ 0.5 फीसदी ज्यादा वोट शेयर लेकर कांग्रेस ने किया 'खेल', जानिए आंकड़ों का पूरा अंकगणित

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है. यहां शानदार प्रदर्शन कर कांग्रेस ने बीजेपी को करारी शिकस्त दी है

Updated On: Dec 12, 2018 11:46 AM IST

FP Staff

0
Rajasthan Results: सिर्फ 0.5 फीसदी ज्यादा वोट शेयर लेकर कांग्रेस ने किया 'खेल', जानिए आंकड़ों का पूरा अंकगणित

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है. यहां शानदार प्रदर्शन कर कांग्रेस ने बीजेपी को करारी शिकस्त दी है. 99 सीटों पर जीत के साथ बहुमत के जादुई आंकड़े के लगभग पास पहुंच गई है और सरकार बनाने की तैयारी में है. वहीं बीजेपी की हार के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपना इस्तीफा राज्यपाल कल्याण सिंह को सौंप दिया है.

आज है कांग्रेस विधायक दल की बैठक

कांग्रेस विधायक दल की बुधवार को जयपुर में बैठक होगी, जिसमें विधायक दल नेता सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी. पार्टी का कहना है कि मुख्यमंत्री पद पर अंतिम फैसला पार्टी आलाकमान करेगा, लेकिन इस बारे में बुधवार तक फैसला होने की पूरी संभावना है. मिली जानकारी के अनुसार, शाम 4 बजे विधायक दल की बैठक होगी. इसमें कांग्रेस पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल विधायकों की राय लेंगे और कांग्रेस अध्यक्ष को रिपोर्ट देंगे.

किसने जीती कितनी सीटें

राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी. उसने 199 सीटों पर हुए चुनाव में 99 सीटें जीतीं. जब कि बीजेपी ने 73 सीटें जीतीं और वो दूसरे नंबर पर रही. बसपा ने 6 सीटें अपने नाम की. 12 सीटों पर निर्दलियों का कब्जा रहा. वहीं आरएलडी ने 1, बीटीपी ने 2, आरएलपी के खाते में 3, और सीपीएम ने 2 सीटों पर बाजी मारी.

नोटा से भी कम वोट

पांच राज्यों में हुए चुनावों के परिणाम जब सामने आए, तो एक दिलचस्प बात और भी पता लगी कि कई पार्टियों का वोट पर्सेंटेज तो नोटा से भी कम रहा है. आप और सपा सहित अन्य क्षेत्रीय दलों से नोटा का वोट पर्सेंटेज अधिक दर्ज किया गया. राजस्थान में सीपीएम को 1.3 प्रतिशत और सपा को 0.2 प्रतिशत मिले मतों की तुलना में राज्य के 1.3 प्रतिशत मतदाताओं ने सभी उम्मीदवारों को नकारते हुए नोटा को अपनाया.

वसुंधरा जीतीं लेकिन उनके मंत्री हारे

झालरापाटन सीट से मानवेंद्र सिंह को हरा कर वसुंधरा राजे ने लगातार पांचवीं बार यहां से जीत हासिल की. लेकिन वसुंधरा राजे सरकार में कद्दावर रहे कई मंत्री विधानसभा चुनाव हार गए हैं. इनमें परिवहन मंत्री युनूस खान, खान मंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी, यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी, जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप, गोपाल मंत्री ओटाराम देवासी, कृषि मंत्री प्रभु लाल सैनी, सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक व खान मंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी, सामाजिक न्याय व आधिकारिता मंत्री अरूण चतुर्वेदी हैं.

किसका कितना रहा वोट पर्सेंट

- कांग्रेस- 39.3%

- बीजेपी- 38.8%

- निर्दलीय- 9.5%

- बीएसपी- 4%

- आरएलटीपी- 2.4%

- सीपीएम- 1.2%

- बीटीपी- 0.7%

- एएएपी- 0.4%

- आरएलडी- 0.3%

- बीवीएचपी- 0.3%

- जेएसआर- 0.2%

- एनसीपी- 0.2%

- सपा- 0.2%

- नोटा- 1.3%

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi