S M L

राजा भैया ने बनाई नई पार्टी, बोले SC/ST एक्ट और आरक्षण पर हो रही राजनीति के बाद लिया फैसला

कुंडा विधायक राजा भैया ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट, आरक्षण और जातिवादी राजनीतिक योजनाओं को देखते हुए उन्हें नई पार्टी बनाने की जरूरत महसूस हुई

Updated On: Nov 16, 2018 02:02 PM IST

FP Staff

0
राजा भैया ने बनाई नई पार्टी, बोले SC/ST एक्ट और आरक्षण पर हो रही राजनीति के बाद लिया फैसला

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के कुंडा से बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने शुक्रवार को अपनी नई राजनीतिक पार्टी की घोषणा की. लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर निर्दलीय विधायक राजा भैया ने अपनी पार्टी के नाम और मुद्दों के बारे में चर्चा की. उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट, आरक्षण और जातिवादी राजनीतिक योजनाओं को देखते हुए उन्हें नई पार्टी बनाने की जरूरत महसूस हुई.

नई पार्टी की घोषणा करते हुए राजा भैया ने कहा कि देश और प्रदेश में तमाम पॉलिटिकल पार्टियां हैं लेकिन वे आम लोगों से जुड़े मुद्दे पर सदन में चर्चा तक नहीं करते. जिसे देखते हुए उन्होंने नई पार्टी बनाने के लिए निर्वाचन आयोग में आवेदन किया है. उन्होंने बताया कि हमने तीन नामों को सुझाया है, जिनमें जनसत्ता पार्टी, जनसत्ता दल और जनसत्ता लोकतांत्रिक पार्टी का नाम शामिल है. पार्टी का नाम फाइनल होने में कुछ समय लग सकता है.

राजा भैया ने कहा, राजीव गांधी के समय में एससी-एसटी एक्ट कानून बनाया गया. उसके बाद इसमें कई संशोधन हुए. इसे गैर जमानती बनाया गया. यह भी कहा गया कि इसकी जांच पहले इंस्पेक्टर करेंगे. इसके बाद इसमें भी संशोधन किया गया.

एससी/एसटी एक्ट पर सरकार के रवैये से नाराज हैं राजा भैया

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने इस एक्ट को लेकर फैसला दिया था. कोर्ट के फैसले को लेकर अफवाह फैला दी गई कि एससी-एसटी एक्ट को खत्म कर दिया गया है. राजा भैया के मुताबिक, सरकार ने इस भ्रम को खत्म करने के लिए कुछ नहीं किया. कई शहरों में आंदोलन हुआ. हिंसा हुई. अंत में सरकार ने संसद कानून ही बदल दिया. राजा भैया ने कहा कि मैं इसे ठीक नहीं मानता हूं.

राजा भैया ने कहा कि मुझे राजनीति में 25 साल हो गए हैं. मैं तब से निर्दलीय विधायक हूं. इसलिए मैंने तय किया है कि अब नई पार्टी बनाऊंगा. इसके लिए हमने चुनाव आयोग से संपर्क भी किया था. राजा भैया को राजनीति में आए 30 नवंबर को पांच साल पूरे हो जाएंगे. इस दिन वो लखनऊ के रमाबाई मैदान में एक बड़ी रैली भी करने वाले हैं. इस रैली में वो अपनी पार्टी की रणनीतियों पर खुलासा करेंगे. माना जा रहा है कि वो 2019 लोकसभा चुनावों में अपने उम्मीदवार भी मैदान में उतारेंगे.

कुंडा से लगातार 7 बार विधायक रहे राजा भैया पूर्व के राज्य सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं. वो मात्र 26 साल की उम्र में पहली बार निर्दलीय विधायक बने थे. उनकी ठाकुर मतदाताओं पर मजबूत पकड़ मानी जाती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi