विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

राज ठाकरे के गुंडे उत्तर भारतीयों को पीट रहे हैं, चुप हैं मुख्यमंत्री

घटना का वीडियो वायरल हो गया है मगर अभी तक इस पर कार्यवाई की बात नहीं की गई है

FP Staff Updated On: Oct 11, 2017 11:06 AM IST

0
राज ठाकरे  के गुंडे उत्तर भारतीयों को पीट रहे हैं, चुप हैं मुख्यमंत्री

महाराष्ट्र और मराठी अस्मिता के नाम पर गुंडागर्दी करने वाले राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस एक बार फिर सड़कों पर मारपीट कर रही है. महाराष्ट्र के सांगली जिले से वीडियो सामने आया है जिसमें एमएनएस के कार्यकर्ता गरीब उत्तर भारतीयों को पीट रहे हैं.

मंगलवार के इस वीडियो में एमएनएस के गुंडे सड़क पर हाथ में लाठी लेकर सामने दिख रहे हर उत्तर भारतीय को बेरहमी से पीट रहे हैं.

लाठी चलाओ भैय्या हटाओ

एमएनएस ने सांगली में पर-प्रांतीय हटाओ मुहिम शुरू की है, जिसका नारा है, 'लाठी चलाओ भैय्या हटाओ'. एमएनएस का आरोप है कि सांगली स्थित एमआईडीसी में पर-प्रांतीयों को नौकरी दी जा रही है. यहां 80 फीसदी नौकरी सिर्फ और सिर्फ मराठी लोगों को दी जाए. एमएनएस पर-प्रांतीयों की वजह से इलाके में अपराध बढ़ने का आरोप भी लगा रही है.

राज ठाकरे के इन गुंडों ने लोगों की पिटाई कर उसका वीडियो बनाया और मीडिया को सर्कुलेट कर दिया ताकि उत्तर भारतीयों में दहशत और बढ़े. इन पिट रहे गरीब लोगों के लिए न पुलिस आगे आई न स्थानीय लोग.

खामोश बैठी है फडणवीस सरकार

राज ठाकरे एमएनएस को दुबारा अपने पैरों पर खड़ा करना चाहते हैं. अबतक लगभग सभी चुनावों में हार का मुंह देखने वाले राज इसीलिए फिर से हिंसक आंदोलन की शुरुआत कर रहे हैं. इस पूरी घटना में सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि वीडियो के वायरल होने के बाद भी महाराष्ट्र सरकार की तरफ से अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

माना जा रहा है कि बीजेपी अब शिवसेना के मराठी वोटबैंक में सेंध लगाने के लिये राज ठाकरे को हथियार बनाना चाहती है. राज ठाकरे का कद बढ़ने से शिवसेना के मराठी वोटबैंक में बंटवारा होगा जिसका सीधा फायदा बीजेपी को हो सकता है. शायद यही वजह है कि राज्य का गृह मंत्रालय पास होने के बावजूद भी फडणवीस सरकार आंख कान मुंह बंदकर बैठी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi