S M L

मोदी फिलीपींस गए तो राहुल वापस गुजरात दौरे पर

उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा, ‘राहुल गांधी क्यों चुनावों के पहले मंदिरों की यात्रा कर रहे हैं. लोग उनके इरादे जानते हैं कि वे ऐसे हथकंडों से वोट हासिल करना चाहते हैं

Updated On: Nov 12, 2017 12:46 PM IST

Bhasha

0
मोदी फिलीपींस गए तो राहुल वापस गुजरात दौरे पर

एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन दिन के फिलीपींस दौरे पर चले तो राहुल गांधी तीन दिन का गुजरात दौरा शुरू कर रहे हैं. रविवार को उन्होंने उत्तरी गुजरात के दौरे की शुरूआत राज्य के दो बड़े मंदिर अंबाजी मंदिर और अक्षरधाम जाकर की.

कांग्रेस उपाध्यक्ष की अक्षरधाम दौरे से बीजेपी और विपक्षी कांग्रेसी पार्टी के बीच वाकयुद्ध शुरू हो गया. सत्तारूढ़ पार्टी ने कहा कि उनका मंदिर दर्शन केवल वोट पाने के लिए है, जबकि कांग्रेस ने उस पर पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी के पास ‘भक्ति’ का पेटेंट नहीं है.

राहुल गांधी रविवार की सुबह यहां पहुंचने के बाद सीधे गांधीनगर स्थित अक्षरधाम मंदिर गए और भगवान स्वामीनारायण की पूजा की. इस दौरान वे छह जिलों का दौरा करेंगे.

बीजेपी ने की आलोचना, कहा वोट के लिए राहुल जा रहे हैं मंदिर 

अक्षरधाम मंदिर स्वामीनारायण पंथ से संबंधित है और पटेल समुदाय में इसके काफी अनुयायी हैं. कांग्रेस विधानसभा चुनाव के पहले इस समुदाय को आकर्षित करने का प्रयास कर रही है. प्रदेश में विधानसभा चुनाव दो चरण में नौ दिसंबर और 14 दिसंबर को होने हैं.

इससे पहले राहुल शनिवार की रात में उत्तरी गुजरात के बनासकांठा जिले में स्थित प्रसिद्ध देवी अंबा मंदिर गए.

यहां उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं और भक्तों की ‘जय अंबे मां’ के उच्चरण के बीच आरती और पूजा अर्चना की.

उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा, ‘राहुल गांधी क्यों चुनावों के पहले मंदिरों की यात्रा कर रहे हैं. लोग उनके इरादे जानते हैं कि वे ऐसे हथकंडों से वोट हासिल करना चाहते हैं. उनका भक्ति के प्रति कोई झुकाव नहीं है. अपने पहले की यात्राओं के दौरान राहुल गांधी कभी किसी मंदिर में नहीं गए.’

पटेल ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि कांग्रेस अपनी छद्म धर्मनिरपेक्षता को छोड़ दे और मुख्यधारा हिन्दुत्व का सम्मान करे. क्योंकि वोट हासिल करने के लिए उनके हथकंडे गुजरात में सफल नहीं होंगे.’

कांग्रेस ने कहा भक्ति बीजेपी का पेटेंट नहीं 

कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि लोग बीजेपी को सबक सिखाएंगे क्योंकि वह मंदिर जाने का विरोध कर रही है.

कांग्रेस नेता शक्तिसिंह गोहिल ने कहा, ‘क्या किसी के पास भक्ति का पेटेंट है? वे लोग मंदिर की यात्रा का विरोध कर रहे हैं. गुजरात के लोग उन्हें सबक सिखाएंगे.’

उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी जी हिंदू मंदिरों के अलावा जैन मंदिर और गुरूद्वारे भी गए हैं. हम धर्मनिरपेक्षता में विश्वास करते हैं.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi