S M L

मोदी सरकार बनने के बाद देश के कई राज्यों में फैली अशांति : राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा- छत्तीसगढ़ के लोगों से जल, जंगल और जमीन को छीना जा रहा है

Updated On: Jul 29, 2017 08:03 PM IST

Bhasha

0
मोदी सरकार बनने के बाद देश के कई राज्यों में फैली अशांति : राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमलावर होते हुए आरोप लगाया कि मई, 2014 में सरकार गठन के बाद से जम्मू-कश्मीर सहित कई राज्यों में अशांति शुरू हुई है.

छत्तीसगढ़ दौरे पर आए राहुल गांधी ने शनिवार को जगदलपुर में दावा किया कि मोदी सरकार के शासनकाल में देश के अलग-अलग हिस्सों में फैली अशांति से आरएसएस, चीन और पाकिस्तान को फायदा हो रहा है.

राहुल ने कहा, ‘केंद्र में एनडीए के सत्ता में आने के बाद कई राज्यों में टकराव शुरू हो गया. जम्मू-कश्मीर में शांति थी, यूपीए सरकार के दौरान वहां आतंकवाद कमोबेश खत्म हो गया था.’ उन्होंने कहा, ‘हमने अलग-अलग तबकों के लोगों से बात की. हमारा विचार था कि लोगों से संपर्क कायम करें, युवाओं को नौकरियां मुहैया कराएं. हमने पंचायती राज चुनाव कराए.’

राहुल यहां ‘आमचो हक’ यानी हमारा हक नाम के एक कार्यक्रम के दौरान आदिवासी समुदाय के छात्रों को संबोधित कर रहे थे. कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई की ओर से इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था.

अमेठी से सांसद राहुल ने कहा, ‘जब कांग्रेस 2004 में सत्ता में आई थी तो हमने जम्मू-कश्मीर में धीरे-धीरे आतंकवाद को नियंत्रित कर लिया और यह कमोबेश खत्म हो गया था. राहुल ने आरोप लगाया कि अब देश में चाहे वो- श्रीनगर, सिक्किम और बस्तर हर जगह अशांति है. उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु से भी शांति गायब हो गई.

राहुल ने कहा छत्तीसगढ़ में आरएसएस और उद्योगपतियों को बस्तर में टकराव का फायदा मिल रहा है. छत्तीसगढ़ जल, जंगल और खनिज के मामले में समृद्ध राज्य है और ‘वो आपके संसाधन छीनना चाहते हैं और वो तब तक ऐसा नहीं कर सकते जब तक संकट पैदा न हो.’ राहुल ने दावा किया, ‘इसलिए वो दुर्भाव पैदा कर रहे हैं, वो चाहते हैं कि आप आपस में लड़ें. आदिवासियों को औद्योगीकरण से कभी फायदा नहीं मिलने वाला.’

कांग्रेस सांसद ने आरोप लगाया कि आरएसएस चाहता है कि दलित, आदिवासी और ओबीसी समुदाय के लोग कमजोर और दबे रहें ताकि वह उन पर राज कर सके.

उन्होंने कहा, ‘वो जहां भी जाते हैं, आग लगाते हैं. हरियाणा में उन्होंने जाटों और गैर-जाटों के बीच झगड़ा शुरू कराया. कश्मीर में हिंदुओं-मुस्लिमों को लड़वाया, असम में बंगालियों और गैर-बंगालियों में झगड़ा कराया. वो जहां भी जाते हैं, झगड़ा कराते हैं.’

राहुल ने दावा किया, ‘हम चाहते हैं कि आपको आपके जल, जंगल और खनिज से फायदा मिले, किसी और को नहीं. हम आपके अधिकारों की रक्षा करना चाहते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपकी जमीनें क्यों छीनना चाहते हैं? ताकि वो आपकी जमीनें, आपके खदान उद्योगपतियों को दे सकें.’ उन्होंने कहा कि इस सब में आदिवासियों को परेशानी उठानी पड़ रही है और इससे उनका नुकसान हो रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi