S M L

रिश्ते बोलने से नहीं निभाने से बनता है मोदी जी: राहुल गांधी

रायबरेली की इस रैली में राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी भी उनके साथ शामिल हुईं.

FP Staff Updated On: Feb 17, 2017 05:36 PM IST

0
रिश्ते बोलने से नहीं निभाने से बनता है मोदी जी: राहुल गांधी

शुक्रवार को रायबरेली की चुनावी रैली में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा. रायबरेली की इस रैली में राहुल के साथ उनकी बहन प्रियंका गांधी भी  शामिल हुईं. प्रियंका  मंच पर तो मौजूद रहीं लेकिन उन्होंने भाषण नहीं दिया. वहीं राहुल के निशाने पर पीएम मोदी के बयान रहे. राहुल ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी ने रायबरेली के साथ नाइंसाफी की है.

पीएम मोदी के गोद लिए बेटे के बयान पर राहुल गांधी ने कहा कि रिश्ते बोलने से नहीं निभाने से बनते हैं. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने वाराणसी, उत्तर प्रदेश और मां गंगा से किया गया वादा नहीं निभाया.

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जहां जाते हैं रिश्ता बनाते हैं लेकिन काम नहीं करते. बिहार के लिए भी पैकेज की बात कही. लेकिन किया कुछ नहीं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, 'मेरे पास मोदी के वादों की लिस्ट है. उन्होंने कहा कि गंगा को साफ कर दूंगा, घाटों को साफ कर दूंगा. बनारस में फ्री इंटरनेट दूंगा. सड़कें बना दूंगा. लेकिन एक काम नहीं किया.'

राहुल गांधी ने कहा कि 'रायबरेली में हम फूड प्रोसेसिंग पार्क लगाना चाहते थे. हम यहां 40 फैक्टरियां लगाने वाले थे. पीएम मोदी ने रायबरेली में बनने वाली रेल फैक्ट्री के प्रोजेक्ट को रोक कर रखा है. अगर प्रधानमंत्री ने रायबरेली को फूड पार्क दिया होता तो कुछ और बात होती.'

मोदी सरकार पर हमला करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि मोदी जी 'मेक इन इंडिया' की बात कर रहे हैं लेकिन पूरे देश में 'मेड इन चाइना' ही चल रहा है. पिछले साल एक भी नौजवान को रोजगार नहीं मिला है. यह बात खुद मोदी सरकार के मंत्री ने संसद में दिए एक जबाब में कहा है.

राहुल गांधी ने नोटबंदी के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि पीएम ने नोटबंदी करके गरीबों को लाइन में लगा दिया और विजय माल्या को 1200 करोड़ रुपए की टॉफी खिलाई.

पीएम मोदी देश के सिर्फ 50 अमीर परिवारों को पैसा दे रहे हैं. माल्या जैसा आदमी जो शराब बेचता है उसे हजारों करोड़ों का लोन देते हैं और खून-पसीना बहाने वाले किसानों को टमाटर की कीमत के 5 रुपए देते हैं.

मोदी ने किसानों का कर्ज माफ नहीं किया

उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार ने किसानों का 70 हजार करोड़ का कर्ज माफ किया, लेकिन मोदी जी ने क्या किया? मोदी जी, बारिश होती है, ओला गिरता है, लेकिन मुआवजा नहीं देते. हमें बस 2 चीजें चाहिए. कर्ज माफ, बिजली बिल हाफ. यूपी के 2 करोड़ किसानों ने हमसे कहा कि हमारा कर्ज माफ कराइए.'

राहुल गांधी ने कहा कि. 'मैंने कहा मोदीजी किसानों का कर्ज माफ कीजिए. वे चुप खड़े रहे. कर्ज माफी के बारे में कुछ नहीं कहा.

आज मोदी जी कहते हैं कि कि जैसे ही यूपी में बीजेपी की सरकार बनाओगे, हम कर्जा माफ कर देंगे.

हमने 70 हजार करोड़ का कर्ज माफ कर दिया, लेकिन उस समय यूपी में कांग्रेस की सरकार नहीं थी.'

राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी ने छोटे व्यापारियों, दुकानदारों और किसानों को नुकसान पहुंचाया है.

उन्होंने कहा कि अगर यूपी में गठबंधन की सरकार आई तो हम गरीबों और किसानों को पैसा देंगे. हमारी सरकार माल्या को बैंक लोन नहीं देगी बल्कि किसानों, गरीबों, युवाओं और महिलाओं की मदद करेगी.

राहुल गांधी ने कहा कि हमारी सरकार किसानों, युवाओं और महिलाओं की सरकार होगी. हम 'मेड इन उत्तर प्रदेश' और 'मेड इन रायबरेली' को पूरी दुनिया में फैलायेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi