live
S M L

प्रमोद तिवारी के पास सहारा की गाड़ी, मगर राहुल कभी सवार नहीं हुए

ऐसी खबर उड़ी थी कि अमेठी में जिस लैंड क्रूजर पर राहुल गांधी सवार थे, वह गाड़ी सहारा इंडिया के नाम से रजिस्टर है.

Updated On: Dec 27, 2016 07:56 PM IST

FP Staff

0
प्रमोद तिवारी के पास सहारा की गाड़ी, मगर राहुल कभी सवार नहीं हुए

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर सहारा से पैसे लेने का आरोप कई बार लगाया है. अब इस आरोप के जवाब में दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी के सहारा के साथ संबंध हैं.

सोशल मीडिया पर 2014 के लोकसभा चुनावों की एक तस्वीर वायरल हो रही है. इसमें दावा किया जा रहा है कि अमेठी में जिस लैंड क्रूजर पर राहुल गांधी सवार थे, वह गाड़ी सहारा इंडिया के नाम से रजिस्टर है.

प्रमोद तिवारी ने माना है कि सहारा की गाड़ी उनके पास है, मगर राहुल गांधी उस पर कभी सवार नहीं हुए. इस संबंध में प्रदेश18 ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी से फोन पर बात की.

प्रमोद तिवारी ने कहा कि उनके पास सहारा के नाम से रजिस्टर्ड लैंड क्रूजर गाड़ी जरूर है क्योंकि वह सहारा के वकील भी हैं, लेकिन राहुल गांधी उस पर कभी सवार नहीं हुए. जिस तस्वीर का हवाला दिया जा रहा है, असल में वह फॉरच्यूनर गाड़ी की तस्वीर है, जिस पर राहुल गांधी सवार थे. ये गाड़ी खुद उनके नाम रजिस्टर्ड है.

उधर सहारा के मीडिया हेड अभिजीत सरकार ने कहा कि मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

राहुल की अमेठी वाली गाड़ी सहारा की है

हिंदी न्यूज चैनल एबीपी न्यूज के मुताबिक राहुल गांधी अमेठी में नामांकन के वक्त जिस गाड़ी में सवार थे वो सहारा इंडिया के नाम से रजिस्टर्ड हैं. अपने कार्यक्रम वायरल सच में उन्होंने इस खबर को सही बताया है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लगातार कई रैलियों में सहारा से तत्कालीन गुजरात सीएम मोदी के बीच कथित लेनदेन की बात की जांच की मांग कर चुके हैं. हालांकि इस कथित लेनदेन में दिल्ली की तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का नाम भी सामने आया है.

प्रमोद तिवारी ने कहा है, 'लोग झूठ बोल रहे हैं, खबर प्लांट की गई है. वो गाड़ी फॉरच्यूनर थी, जो मेरे नाम से थी. जौ लैंड क्रूजर है, वह मेरे पास चार साल से है और सहारा के नाम पर है क्योंकि मैं सहारा का वकील हूं और उन्होंने वो गाड़ी दी है. उसमें राहुल गांधी कभी गए हैं, ये गलत है और मैं तो 27-28 साल से उनका वकील हूं. जिस केस में मैं उनका वकील हूं, उस केस में रविशंकर जी और जेटली जी सभी थे. मैं पूरी तरह से खारिज करता हूं शत प्रतिशत. 101 प्रतिशत वह उस गाड़ी में नहीं गए थे.

साभार: प्रदेश 18

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi