S M L

आज से राहुल का कर्नाटक दौरा, चुनाव अभियान का करेंगे आगाज

कांग्रेस के लिए यह चुनाव 'करो या मरो' वाला है क्योंकि इस बार बीजेपी ने भी अखाड़े में दंगल जीतने की पूरी तैयारी की है

Updated On: Feb 10, 2018 01:23 PM IST

FP Staff

0
आज से राहुल का कर्नाटक दौरा, चुनाव अभियान का करेंगे आगाज

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज यानी शनिवार को कर्नाटक के बेल्लारी पहुंचे हैं. यहां से वो कर्नाटक चुनाव का प्रचार अभियान शुरू करने वाले हैं. कांग्रेस के लिए यह चुनाव 'करो या मरो' वाला है क्योंकि इस बार बीजेपी ने भी अखाड़े में दंगल मारने की पूरी तैयारी की है. कांग्रेस अध्यक्ष के मन-मस्तिष्क में 1999 का वह चुनाव है जिसमें उनकी मां सोनिया गांधी ने जीत हासिल की थी. इसी जीत के बाद कांग्रेस पार्टी एसएम कृष्णा की अगुआई में सत्ता पर काबिज हुई थी. यह अलग बात है कि उसी साल नई दिल्ली में उन्हें बीजेपी की वाजपेयी सरकार के हाथों करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था.

प्रारंभ बेल्लारी से ही क्यों?

गांधी परिवार का जिस तरह का नाता अमेठी और रायबरेली से है, कुछ वैसा ही नाता बेल्लारी से भी है. यह वही क्षेत्र है जहां 1999 में राहुल की मां सोनिया गांधी ने बीजेपी नेता सुषमा स्वराज को लोकसभा चुनाव में हराया था. उस चुनाव के दौरान राहुल गांधी अपनी मां के साथ कई दिनों तक प्रचार अभियान पर रहे थे. माना जाता है कि कर्नाटक की सत्ता में कांग्रेस की वापसी कराने में बेल्लारी सीट का बहुत बड़ा योगदान रहा है. सात साल विपक्ष में बैठने के कांग्रेस कर्नाटक की सत्ता पर काबिज हो पाई थी. साल 2010 में तत्कालीन विपक्षी नेता सिद्धारमैया ने 'खदान माफिया रेड्डी बंधुओं' के खिलाफ बेंगलुरु से बेल्लारी तक पदयात्रा निकाली थी. यह पदयात्रा कांग्रेस के पक्ष में रही और आगे चलकर इसी की बदौलत वहां सरकार बन पाई.

राहुल का क्या है कार्यक्रम?

खबरों के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं को स्पष्ट संदेश दिया है कि वोटरों तक जाएं और प्रदेश सरकार के काम गिनाएं. उनके दौरे में कई कार्यक्रम शामिल हैं जिनमें रोड शो, जनसभा, सिविल सोसायटी के साथ जनसंपर्क और जगह-जगह किसानों के साथ संवाद शामिल हैं. कर्नाटक में असेंबली चुनाव अप्रैल में कराए जाने की संभावना है. उनके संभावित कार्यक्रम इस प्रकार हैं-

-बेल्लारी पहुंचने के बाद राहुल गांधी हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र में जनसभा करेंगे.

-जनसभा के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे.

-इसके बाद राहुल गांधी हुलीगेम्मा मंदिर में पूजा के लिए जाएंगे और फिर लिंगायतों के प्रसिद्ध गवि सिद्धेश्वर मठ का दर्शन करेंगे.

-12 तारीख को राहुल गांधी कलबुर्गी (गुलबर्गा) के ख्वाजा बंदे नवाज़ की दरगाह जाएंगे.

-13 फरवरी को दिल्ली लौटने से पहले राहुल गांधी बिदर के "अनुभव मंटप्प" का दर्शन करेंगे.

सॉफ्ट हिंदुत्व पर रहेगा फोकस

गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी ने 'सॉफ्ट हिंदुत्व' के रास्ते पर चलते हुए कई मंदिर में जाकर दर्शन किए थे. इस बार कर्नाटक चुनाव के मद्देनजर भी ऐसा ही किया जा रहा है.

शनिवार को राहुल गांधी हुलीगेम्मा दुर्गा मंदिर और गवि सिद्धेश्वर मठ से होते हुए रास्ता पहाड़ी पर बने शिव मंदिर का दर्शन करेंगे. दोनों ही जगह लिंगायत जाति के लोगों के लिए अहम है. लिंगायत के अलावा इस इलाके में कुरुबा और मुस्लिम लोग भी बहुतायत में हैं. कुरुबा और मुस्लिम पर कांग्रेस की अच्छी पकड़ है. इस दौरे पर राहुल के साथ कर्नाटक से सीएम सिद्धारमैया और मल्लिकार्जुन खड़गे भी मौजूद रहेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi