S M L

सर्जिकल स्ट्राइक पर राहुल का तंज, कहा- सेना को निजी संपत्ति समझने वाले 'मिस्टर 36' को शर्म नहीं आती

इसके पूर्व भी राहुल गांधी ने कहा था कि नरेंद्र मोदी के सर्जिकल स्ट्राइक की तरह ही मनमोहन सिंह ने भी इस तरह का तीन सर्जिकल स्ट्राइक किया था, लेकिन उन्होंने कभी इसका प्रचार नहीं किया

Updated On: Dec 08, 2018 06:17 PM IST

FP Staff

0
सर्जिकल स्ट्राइक पर राहुल का तंज, कहा- सेना को निजी संपत्ति समझने वाले 'मिस्टर 36' को शर्म नहीं आती

सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुडा का बयान सामने आने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'जनरल ने एक सच्चे सिपाही की तरह बोला है. मिस्टर 36 को सेना को व्यक्तिगत संपत्ति के रूप में प्रयोग करने में शर्म नहीं आती है. उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को राजनीतिक लाभ के लिए प्रयोग किया और राफेल डील के द्वारा अंबानी की संपत्ति को तीस हजार करोड़ बढ़ा दिया.'

इसके पूर्व भी राहुल गांधी ने कहा था कि नरेंद्र मोदी के सर्जिकल स्ट्राइक की तरह ही मनमोहन सिंह ने भी इस तरह का तीन सर्जिकल स्ट्राइक किया था, लेकिन उन्होंने कभी इसका प्रचार नहीं किया.

सर्जिकल स्ट्राइक का जरूरत से ज्यादा किया गया प्रचार

सर्जिकल स्ट्राइक के करीब दो साल बाद रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुडा ने इसे लकेर एक बड़ा बयान दिया था. उनका मानना है कि इस मामले को जरूरत से ज्यादा तूल दिया गया. जरूरत से ज्यादा इसे सबके सामने लाया गया. हूडा ने कहा था, मुझे लगता है कि इस मामले को जरूरत से ज्यादा तूल दिया गया. सेना का ऑपरेशन जरूरी था और हमें यह करना था. अब इस पर इतनी राजनीति हुई, यह सही है या गलत, यह तो हमें राजनेताओं से पूछना चाहिए.

डी एस हुड्डा ने कहा था कि सफलता पर शुरुआती खुशी स्वाभाविक है लेकिन अभियान का लगातार प्रचार करना अनुचित है.बीजेपी चुनाव प्रचार के दौरान लगातार सर्जिकल स्ट्राइक का ज़िक्र करती रही है. लेकिन जनरल हुड्डा के इस बयान के बाद बीजेपी के लिए शर्मिंदगी वाली स्थिति पैदा हो गई है. लोगों के सवालों का जवाब देते हुए जनरल हुड्डा ने कहा कि अगर ये गुप्त रखा जाता तो बेहतर होता. इस तरह के किसी भी एक्शन का उद्देश्य होता है कि दुश्मन का विश्वास हिल जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi