S M L

RSS-BJP देश की संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद कर रहे हैं: राहुल गांधी

संविधान बचाओ अभियान में राहुल गांधी ने कहा, नरेंद्र मोदी और बीजेपी साजिश के तहत आएएसएस की विचारधारा वाले लोगों को संवैधानिक संस्थाओं में नियुक्त कर रहे हैं

Updated On: Apr 23, 2018 04:04 PM IST

FP Staff

0
RSS-BJP देश की संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद कर रहे हैं: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी के बुलाए 'संविधान बचाओ' अभियान में नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर जमकर हमला बोला है. राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर देश के संवैधानिक संस्थाओं को तोड़ने और उनसे खिलवाड़ का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि इन जगहों पर साजिश के तहत आएएसएस की विचारधारा वाले लोगों को नियुक्त किया जा रहा है.

राहुल ने कहा, 'नरेंद्र मोदी को दलितों के विकास, अल्पसंख्यकों और महिलाओं, किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य, युवाओं के रोजगार की चिंता नहीं है. उन्हें बस सिर्फ प्रधानमंत्री की अपनी कुर्सी की फिक्र है.' उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में दलितों और अल्पसंख्यकों पर अत्याचार बढ़े हैं. बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं बढ़ी है. कर्ज के बोझ तले दबे किसान आत्महत्या कर रहे हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, नरेंद्र मोदी नीरव मोदी, माल्या और राफेल पर बात करने में डरते हैं. मेरी संसद में 15 मिनट स्पीच करा लो, मोदी जी वहां खड़े नहीं हो पाएंगे. आमतौर पर विपक्ष संसद नहीं चलने देती, लेकिन यहां सरकार खुद संसद नहीं चलने देती. उन्होंने कहा, 'गुजरात में दलितों पर हो रहे अत्याचार को लेकर कांग्रेस पार्टी ने आवाज उठाई. देश में संविधान ही दलितों, महिलाओं की रक्षा देश करता है.'

उन्होंने कहा कि देश को संविधान भीमराव अंबेडकर और कांग्रेस ने दिया. आज सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट है तो इनकी नींव संविधान है. आरएसएस की विचारधारा वाले लोग इन्हें बर्बाद करने पर तुले हैं. राहुल ने तंज कसते हुए कहा, 2019 में जनता बीजेपी सरकार को अपने 'मन की बात' बताएगी.

रेप के मुद्दे पर उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि अब प्रधानमंत्री नया नारा देंगे- 'बेटी बचाओ, बीजेपी के लोगों से बचाओ.'

राहुल ने पीएम पर दलितों के मु्द्दे पर घेरते हुए कहा कि पीएम अपनी किताब कर्मयोग में वाल्मिकी समुदाय के मैला ढोने को आध्यात्मिक अनुभव बताकर सही ठहराया है, उनकी इस मानसिकता से ही उनकी दलितों के प्रति विचार साफ हो जाते हैं.

कांग्रेस का यह 'संविधान बचाओ' अभियान अगले साल बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती यानी 14 अप्रैल तक जारी रहेगा. वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले दलित समुदाय के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के प्रयास के तहत कांग्रेस ने यह अभियान शुरू किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi