S M L

राफेल सौदा: राहुल ने किया फ्रेंच मीडिया का वीडियो शेयर, कहा- PM मोदी का दुखद सच

कांग्रेस ने तत्कालीन विदेश सचिव एस जयशंकर का एक अन्य वीडियो भी जारी किया, जिसमें वह 8 अप्रैल, 2015 को एक संवाददाता सम्मेलन में यह कह रहे हैं कि HAL इस करार में है

Updated On: Sep 25, 2018 10:28 AM IST

FP Staff

0
राफेल सौदा: राहुल ने किया फ्रेंच मीडिया का वीडियो शेयर, कहा- PM मोदी का दुखद सच

राफेल डील को लेकर सियासी बयानबाजी सोमवार को और अधिक आक्रामक हो गई. बीजेपी ने राहुल गांधी पर अपने जीजा रॉबर्ट वाड्रा को फायदा पहुंचाने और फायटर प्लेन के सौदे को बर्बाद करने के लिए 'अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साजिश' में शामिल होने का आरोप लगाया. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर परोक्ष हमला करते हुए उन्हें 'भारत का कमांडर-इन-थीफ' करार दिया.

राहुल गांधी ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है, जो फ्रांसीसी प्रकाशन ‘मीडियापार्ट’ वेबसाइट की एक रिपोर्ट से संबंधित है. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'यह कमांडर इन थीफ के बारे में दुखद सच है.'

इसके अलावा उनकी पार्टी कांग्रेस ने भी एक वीडियो जारी किया है, जिसमें डसॉल्ट एविएशन के सीईओ एरिक ट्रैपियर एक कार्यक्रम में मौजूद लोगों को राफेल के अनुबंध में एचएएल के साथ 'जिम्मेदारी साझा' करने के बारे में बता रहे थे, और संकेत दे रहे थे कि यह लगभग तय था.

कांग्रेस ने दावा किया कि यह वीडियो करार की घोषणा से महज कुछ दिन पहले मार्च 2015 का था. हालांकि वीडियो की प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं की जा सकी. इसे लेकर कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने पूछा, 'महज 17 दिन की अवधि में क्या हुआ जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मेगा डील से हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को अलग करते हुए 10 अप्रैल, 2015 को पेरिस में 36 राफेल जेट खरीदने की घोषणा की.'

कांग्रेस ने तत्कालीन विदेश सचिव एस जयशंकर का एक अन्य वीडियो भी जारी किया, जिसमें वह 8 अप्रैल, 2015 को एक संवाददाता सम्मेलन में यह कह रहे हैं कि एचएएल इस करार में है.

बीजेपी ने पलटवार कर कहा, राहुल 'अंतरराष्ट्रीय साजिश' में शामिल

उधर बीजेपी ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि राहुल गांधी 'अंतरराष्ट्रीय साजिश' में शामिल हैं और पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद इस 'गठजोड़' का हिस्सा हैं, जिसका मकसद इस खरीद को नाकाम करना है. बीजेपी ने दावा किया कि वाड्रा से जुड़ी फर्म को फायदा पहुंचाने के लिए कांग्रेस प्रमुख इस सौदे को नाकाम करना चाहते हैं.

बीजेपी के नेता और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत ने इस साजिश में पाकिस्तान की भूमिका का भी संकेत देते हुए कहा कि उसके एक नेता पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक ने ट्वीट भी किया है कि राहुल गांधी भारत के अगले प्रधानमंत्री होंगे.

बीजेपी ने कांग्रेस के सौदे में कुछ गलत होने के आरोपों को खारिज किया. शेखावत ने कहा कि सौदे को नाकाम कराने, देश को बदनाम करने और भारतीय वायुसेना का मनोबल गिराने के लिए एक साजिश की जा रही है.

यह पूछे जाने पर कि क्या विदेश दौरे के दौरान राहुल गांधी की विदेशी नेताओं से मुलाकात इस 'साजिश' का हिस्सा है, उन्होंने कहा, 'निश्चित रूप से हां.'

इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) से मुलाकात की और हजारों करोड़ रुपए के इस सौदे में कथित भ्रष्टाचार में मामला रजिस्टर करने की मांग की और कहा कि यह अब भारत का सबसे बड़ा रक्षा घोटाला बन गया है.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi