S M L

पंजाब नगर निकाय चुनाव: कांग्रेस की आंधी में उड़ गए बादल!

अमृतसर में कुल 96 में से कांग्रेस ने 67 सीटों पर जीत हासिल की है, वहीं बीजेपी-अकाली दल को 12 और अन्य को 4 पर जीत मिली है

Updated On: Dec 18, 2017 12:56 PM IST

FP Staff

0
पंजाब नगर निकाय चुनाव: कांग्रेस की आंधी में उड़ गए बादल!

कांग्रेस ने पंजाब नगर निकाय चुनावों में भारी जीत हासिल की है. इसके अलावा कांग्रेस ने तीनों नगर निगम भी बीजेपी-अकाली दल से झटक लिए हैं. हालांकि इस जीत को पंजाब के स्थानीय नेता इसे राहुल गांधी की जीत बता रहे हैं, लेकिन पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इसे सरकार की पॉलिसी की जीत बताई है.

अमृतसर में कुल 96 में से कांग्रेस ने 67 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं बीजेपी-अकाली दल को 12 और अन्य को 4 पर जीत मिली है.

जालंधर में कांग्रेस ने कुल 85 सीटों में से 69 पर जीत हासिल की है. जबकि बीजेपी को 12 सीटें मिली हैं. जबकि अन्य ने 4 सीटों पर जीत हासिल की है.

पटियाला में कांग्रेस ने सभी सीटें जीत ली हैं. कांग्रेस को 60 में से 59 सीटों पर जीत हासिल हुई है. जबकि पटियाला में अन्य किसी पार्टी को कोई सीट नहीं मिली है. यहां के वार्ड नंबर 37 के एक बूथ पर EVM में गड़बड़ी के चलते दोबारा चुनाव होंगे.

इन चुनावों में आम आदमी पार्टी के लिए सबसे बुरी खबर है. इन चुनावों में आप का प्रदर्शन बेहद खराब रहा. तीनों निगम की बात करें तो आप को एक वार्ड पर जीत हासिल हुई. जबकि इस साल के शुरू में हुए चुनाव में आप का प्रदर्शन काफी अच्छा था. राज्य में आप ने पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ा था और मुख्य विपक्षी दल के रूप में उभरी थी.

इन चुनावों ने कांग्रेस के काम पर मुहर लगा दी है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर पंजाब के लोगों को शुक्रिया अदा किया है. अमरिंदर ने कहा कि यह जीत साफ करती है कि जनता ने हमारी पॉलिसी को पास किया है और विपक्ष के झूठे प्रचार को नकारा है.

वहीं अपनी हार पर बोलते हुए सुखबीर सिंह बादल ने कहा 'यह पूरी तरह संयोजित बूथ कैप्चरिंग थी. हमने चुनाव आयोग से कहा था कि वे हमारे उम्मीदवारों को नामांकन दाखिल करने की अनुमति नहीं दे रहे हैं. 20% उम्मीदवार नॉमिनेशन फाइल नहीं कर पाए. कुछ के नामांकन रद्द हो गए और कुछ उम्मीदवार गिरफ्तार कर लिए गए लेकिन चुनाव आयोग ने कुछ नहीं किया.'

नतीजे काफी रोचक रहे. काउंटिंग की शुरुआत से ही कांग्रेस ने बढ़त बनाई हुई थी. इन नतीजों पर नवजोत सिंह सिद्धू ने भी खुशी जाहिर की है. अपनी पत्नी के साथ वोट डालने पहुंचे सिद्धू ने तो पहले ही कह दिया था कि उनकी पार्टी इन चुनावों में जीत दर्ज कर नवनिर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी को तोहफा देंगे. इसके बाद उन्होंने कहा कि यह पहली जीत है जो राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में चखी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi