S M L

पंजाब चुनाव नतीजे: भगवंत मान बनेंगे आप के 'मैन ऑफ द मैच'?

आप जीती तो मान की सबसे ऊपर बैठने की संभावना मजबूत है.

Updated On: Mar 10, 2017 03:49 PM IST

Akshaya Mishra

0
पंजाब चुनाव नतीजे: भगवंत मान बनेंगे आप के 'मैन ऑफ द मैच'?

भगवंत मान कोई हंसी-मजाक नहीं हैं. यह पूर्व हास्य अभिनेता पंजाब चुनाव वाले ताश की गद्दी में जोकर साबित हो सकते हैं.

यदि आम आदमी पार्टी को राज्य में जीत मिलती है, तो इसका बड़ा श्रेय मान को जाएगा. मान वही शख्स हैं जिन्होंने पार्टी के लिए भीड़ और अंध-समर्थन जुटाया है.. हां, ये समर्थन खास तौर पर केजरीवाल के लिए उतना नहीं है जितना आम आदमी पार्टी के लिए है. पार्टी इस मज़ाकिया शख्स में एक संजीदा राजनीतिज्ञ ढूंढ लेगी और मुख्यमंत्री पद पर उनका राज्याभिषेक करेगी - फिलहाल तो ये सिर्फ एक अनुमान है. मगर इसके पहले पार्टी को जीत कर दिखाना होगा.

मान को मालवा क्षेत्र में पसंद किया जाता है, जहां से पंजाब की कुल 117 सदस्यीय विधानसभा में 69 सीटें आती हैं - ये बात कहना ज़रा कम आंकना होगा. लोग उनको यहां प्यार करते हैं. इस तरह लोगों के लिए उनका अपनी पार्टी के प्रचार के समय नशे में लड़खड़ाते हुए आना लोगों के लिए मायने नहीं रखता है,

ये बात अलग है कि खुद मान की ही पार्टी एक नशा मुक्त राज्य की पैरोकार है. जब वे व्यंग्य से भरे राजनीतिक भाषण देते थे और विरोधियों पर, खासकर दोनों बादल नेताओं पर अपने नए-नए शब्दों के निशाने लगाते थे तो दर्शक पूरे जोश से उनका स्वागत करते थे.

उनकी बात करें तो सबसे ज़्यादा दिलचस्प बात इस चुनाव में ये भी है कि उन्होंने अपने आपको ताकतवर सुखबीर बादल के मुकाबले में उतारा है जो कि न सिर्फ पंजाब के उप-मुख्यमंत्री हैं बल्कि बादल वंश के उत्तराधिकारी भी हैं. यदि वे जीतते हैं तो वे एक बड़े विनाशक का आभा मंडल ओढ़ेंगे. लेकिन उनके खिलाफ जनता का गुस्सा देखते हुए तो चुनाव पर्यवेक्षकों को कहना ही पड़ता है कि मान कि जीतने की उम्मीद है.

अगर ऐसा हुआ तो इससे मान की सबसे ऊपर बैठने की संभावना मजबूत हो जाती है. वैसे तो उन्होंने अभी तक ऐसी कोई दिलचस्पी सीधे-सीधे ज़ाहिर नहीं की है. एक सांसद के रूप में उनके भीतर गंभीरता की कमी भी इस मामले में उनका नुक्सान कर सकती है.

हालांकि, एक बात तो पक्की है, मुख्यमंत्री बने बिना भी मान पंजाब में सबसे ऊपर ही रहेंगे. चुनाव के फैसले से कोई फर्क नहीं पड़ता. पंजाब के मौजूदा राजनीतिक समीकरण 11 मार्च के बाद पलट जाएंगे, इसकी सम्भावना बनती दिख रही है. इधर जब तक आम आदमी पार्टी के राजनीतिक हालात मजबूती के साथ एक नया रूप न ले लें, तब तक भगवंत मान अपनी नई रॉक स्टार की हैसियत का लुत्फ लेते रहेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi