S M L

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में बोले पीएम मोदी- हमने 5 लाख 78 हजार करोड़ रुपए लोगों के अकाउंट में डाले

प्रधानमंत्री ने कहा, पिछले साढ़े चार साल में हमारी सरकार ने करीब-करीब 7 करोड़ ऐसे फर्जी लोगों को पहचानकर, उन्हें व्यवस्था से हटाया है

Updated On: Jan 22, 2019 02:10 PM IST

FP Staff

0
प्रवासी भारतीय सम्मेलन में बोले पीएम मोदी- हमने 5 लाख 78 हजार करोड़ रुपए लोगों के अकाउंट में डाले

15वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे. यहां उन्होंने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, सरकार ने 5 लाख 78 हजार करोड़ रुपए लोगों के अकाउंट में डाले हैं.

उन्होंने कहा, बीते साढ़े चार वर्षों में 5 लाख 78 हजार करोड़ रुपए हमारी सरकार ने अलग-अलग योजनाओं के तहत लोगों के बैंक खाते में ट्रांसफर किए हैं. किसी को घर के लिए, किसी को पढ़ाई के लिए, किसी को स्कॉलरशिप के लिए, किसी को गैस सिलेंडर के लिए, किसी को अनाज के लिए, ये राशि दी गई है.

उन्होंने आगे कहा, अब आप अंदाजा लगाइए, अगर देश पुराने तौर तरीकों से ही चल रहा होता, तो आज भी इस 5 लाख 78 हजार करोड़ रुपए में से 4 लाख 91 हजार करोड़ रुपए लीक हो रहे होते. अगर हम व्यवस्था में बदलाव नहीं लाए होते ये राशि उसी तरह लूट ली जाती, जैसे पहले लूटी जाती थी.

100 फीसदी लूट खत्म की

पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा,आप में से अनेक लोगों ने हमारे देश के एक पूर्व प्रधानमंत्री की भ्रष्टाचार को लेकर कही एक बात जरूर सुनी होगी. उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार दिल्ली से जो पैसा भेजती है, उसका सिर्फ 15 प्रतिशत ही लोगों तक पहुंच पाता है. इतने सालों तक देश पर जिस पार्टी ने शासन किया, उसने देश को जो व्यवस्था दी थी, उस सच्चाई को उन्होंने स्वीकारा था. लेकिन अफसोस ये रहा कि बाद के अपने 10-15 साल के शासन में भी इस लूट को, इस लीकेज को बंद करने का प्रयास नहीं किया गया.

पीएम मोदी ने कहा, देश का मध्यम वर्ग ईमानदारी से टैक्स देता रहा, और जो पार्टी इतने सालों तक सत्ता में रही, वो इस 85 प्रतिशत की लूट को देखकर भी अनदेखा करती रही. पीएम मोदी ने कहा, हमने टेक्नोल़ॉजी का इस्तेमाल करके इस 85 प्रतिशत की लूट को 100 प्रतिशत खत्म कर दिया है.

7 करोड़ फर्जी लोगों को हटाया

प्रधानमंत्री ने कहा, पिछले साढ़े चार साल में हमारी सरकार ने करीब-करीब 7 करोड़ फर्जी लोगों को पहचानकर, उन्हें व्यवस्था से हटाया है. ये 7 करोड़ लोग वो थे, जो कभी जन्मे ही नहीं थे, जो वास्तव में थे ही नहीं. लेकिन ये 7 करोड़ लोग सरकारी सुविधाओं का लाभ ले रहे थे. आप सोचिए, पूरे ब्रिटेन में, फ्रांस में, पूरे इटली में जितने लोग हैं, ऐसे अनेक देशों की जनसंख्या से ज्यादा तो हमारे यहां वो लोग थे, जो सिर्फ कागजों में जी रहे थे और कागजों में ही सरकारी सुविधाओं का लाभ ले रहे थे

One World, One Sun, One Grid की तरफ ले जाना चाहते हैं

इसके साथ पीएम मोदी ने इस सम्मेलन में  दुनिया को One World, One Sun, One Grid की तरफ ले जाने की बात की.

पीएम मोदी ने कहा सरकार का पूरा प्रयास है कि आप सभी जहां भी रहें सुखी रहें और सुरक्षित रहें. बीते साढ़े 4 वर्षों के दौरान संकट में फंसे दो लाख से ज्यादा भारतीयों को सरकार के प्रयासों से मदद मिली है.

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए , डॉक्टर श्री श्री श्री शिवकुमार स्वामी को श्रद्धांजलि भी दी. मोदी ने कहा कि जब भी श्री श्री श्री शिवकुमार स्वामी जी से मिलता था, वो बेटे की तरह अपना स्नेह मुझ पर दिखाते थे. ऐसे महान संत, महाऋषि का जाना, हम सभी के लिए बहुत दुखद है. मानव कल्याण के लिए उनके योगदान को देश हमेशा याद रखेगा.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi