S M L

आंबेडकर जयंती पर बोले राष्ट्रपति- 'समर' की नहीं, 'समरसता' की है जरूरत

कोविंद ने कहा, देश में मुझसे पहले 13 राष्ट्रपति हुए हैं. मुझे पता चला कि मैं आंबेडकर की जन्मस्थली पर पहुंचने वाला पहला राष्ट्रपति हूं

Updated On: Apr 14, 2018 05:48 PM IST

Bhasha

0
आंबेडकर जयंती पर बोले राष्ट्रपति- 'समर' की नहीं, 'समरसता' की है जरूरत

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शनिवार को संविधान निर्माता डॉ. बीआर आंबेडकर की जयंती पर उनकी जन्मस्थली महू पहुंचे. इसी के साथ वे देश के पहले राष्ट्रपति बन गए जो महू पहुंचे हों. महू में राष्ट्रपति ने लोगों को 'बांटने वाली ताकतो' के प्रति आगाह किया. उन्होंने ‘सामाजिक समसरता’ पर जोर देते हुए कहा कि हमें ‘समर की नहीं, बल्कि समरसता’ की जरूरत है.

राष्ट्रपति महू में आयोजित 127वीं आंबेडकर जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए थे. महू आंबेडकर की जन्मस्थली है. कोविंद ने कहा, देश में मुझसे पहले 13 राष्ट्रपति हुए हैं. मुझे पता चला है कि मैं आंबेडकर जयंती पर संविधान निर्माता की जन्मस्थली पर पहुंचने वाला पहला राष्ट्रपति हूं.

राष्ट्रपति ने महू के काली पल्टन इलाके में आंबेडकर की जन्मस्थली पर उनके स्मारक में शीश नवाया. इसके साथ ही, दलित समुदाय के लोगों के साथ भोजन किया. उन्होंने देश भर से आए हजारों आंबेडकर अनुयायियों की मौजूदगी में कहा, मुझे राष्ट्रपति के रूप में उस संविधान की रक्षा का दायित्व मिला है, जिसके प्रमुख निर्माता बाबा साहेब आंबेडकर थे. अगर मैं राष्ट्रपति बनने के बाद उनकी जन्मस्थली पर माथा नहीं टेकता, तो मुझे अपने अंतर्मन में ग्लानि होती.'

उन्होंने कहा, 'समभाव यानी बराबरी के भाव और ममभाव यानी अपनेपन के भाव को जोड़ने से समरसता का भाव पैदा होता है. समाज को आज समर (युद्ध) की नहीं, बल्कि समरसता की जरूरत है... अहिंसा और शांति की जरूरत है.'

राष्ट्रपति ने कहा, मैं सभी देशवासियों, विशेषकर युवाओं से अपील करता हूं कि वे आंबेडकर के बताए शांति, सौहार्द और भाईचारे के रास्ते पर चलें और एकजुट होकर उनके सपनों का भारत बनाने का संकल्प लें.' कोविंद ने कहा, आंबेडकर ने संविधान सभा में दिए अपने अंतिम भाषण में कहा था कि अब हमारे पास विरोध जाहिर करने के संवैधानिक तरीके मौजूद हैं. इसलिए हमें अराजकता से बचना चाहिए.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi