S M L

बजट सत्र 2018: जानिए राष्ट्रपति के अभिभाषण की 10 अहम बातें

राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में तुष्टीकरण को नकारते हुए सशक्तीकरण पर जोर देने की बात की

FP Staff Updated On: Jan 29, 2018 12:38 PM IST

0
बजट सत्र 2018: जानिए राष्ट्रपति के अभिभाषण की 10 अहम बातें

बजट सत्र 2018-19 का सोमवार को शुभारंभ हो गया. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण से इसकी शुरुआत हुई. अपने संबोधन में राष्ट्रपति ने सरकार के कई कार्यों की तारीफ की जिसमें तीन तलाक बिल, मुस्लिम महिलाओं पर से हज की पाबंदी हटाने, अटल पेंशन योजना, नीम कोटिंग यूरिया, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना जैसी बातें प्रमुख रहीं. यहां प्रस्तुत हैं वे 10 बिंदु जिनपर राष्ट्रपति ने फोकस किया-

-सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जारी है. पिछले एक साल में तकरीबन 350,000 संदिग्ध कंपनियों के लाइसेंस रद किए गए हैं.

-हमारा देश युवा देश है इसलिए सरकार ने स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, स्किल इंडिया और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना शुरू की है ताकि युवाओं को मदद दी जा सके.

-गरीबों को घर बनाने के लिए 6 फीसद से कम पर ब्याज दिया जा रहा है. पीएम जनऔषधी योजना से गरीबों को लाभ हुआ है.

- छोटे शहरों को हवाई मार्ग से जोड़ने का काम हो रहा है.

-धुएं में खाना बनाना कष्ट का काम है, इसलिए गरीब परिवारों को गैस कनेक्शन दिए गए

-विकास के दायरे में लोगों लाने के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना को तेज किया गया है.

-शिक्षा राष्ट्र निर्माण का आधार है. तुष्टिकरण नहीं, सशक्तीकरण के काम हो रहे हैं. अल्पसंख्यकों का भी सशक्तीकरण हो रहा है.

-मौजूदा सरकार तुष्टिकरण के खिलाफ है. शौचालय निर्माण सामाजिक न्याय का अंग.

-साल 2018 नए भारत के सपने को साकार करने के लिए है.

-जम्मू और कश्मीर में सेना, अर्धसैनिक बल और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान आतंकवाद के खिलाफ एकजुट लड़ाई लड़ रहे हैं.

-पिछले 15 महीने में 'उड़ान' के तहत 56 एयरपोर्ट और 31 हेलीपैड्स कमर्शियल उड़ाने से जोड़े गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi