विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद ने दिया बिहार राज्यपाल पद से इस्तीफा

पश्चिम बंगाल के गवर्नर केसरीनाथ त्रिपाठी को बिहार का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है

FP Staff Updated On: Jun 20, 2017 03:19 PM IST

0
राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद ने दिया बिहार राज्यपाल पद से इस्तीफा

रामनाथ गोविंद ने बिहार के राज्यपाल के पद से इस्तीफा दे दिया है. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इस्तीफा स्वीकार भी कर लिया है. उन्हें 8 अगस्त 2015 को बिहार के राज्यपाल के पद पर नियुक्त किया गया था. कोविंद को सोमवार को एनडीए का राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया गया है.

फिलहाल पश्चिम बंगाल के गवर्नर केसरीनाथ त्रिपाठी को बिहार का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है.

कोविंद के नाम की घोषणा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने की. कोविंद फिलहाल बिहार के राज्यपाल हैं. अमित शाह ने यह प्रेस कॉन्फ्रेंस दिल्ली में बीजपी की पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं को इसकी जानकारी दी.

भाजपा संसदीय बोर्ड की करीब दो घंटे तक चली बैठक के बाद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि कोविंद 23 जून को इस शीर्ष संवैधानिक पद के लिए अपना नामांकन दाखिल कर सकते हैं.

कोविंद के नाम को एनडीए के घटक दलों में शिवसेना के अलावा सभी का समर्थन है. बीजेडी ने भी उनकी उम्मीदवारी का समर्थन किया है. इसके अलावा उन्हें मायावती के बीएसपी और नीतीश कुमार की जेडीयू का साथ मिल सकता है.

रामनाथ कोविंद का जन्म उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले की तहसील डेरापुर के एक छोटे से गांव परौंख में हुआ था. कोविन्द दलित समुदाय से आते हैं. वकालत की उपाधि लेने के पश्चात दिल्ली हाई कोर्ट में वकालत प्रारंभ की. वह 1977 से 1979 तक दिल्ली हाई कोर्ट में केंद्र सरकार के वकील रहे.

1991 में भारतीय जनता पार्टी में सम्मिलित हो गए. 1994 में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के निर्वाचित हुए. वर्ष 2000 में फिर उत्तरप्रदेश राज्य से राज्य सभा के लिए निर्वाचित हुए. कोविंद लगातार 12 वर्ष तक राज्यसभा सांसद रहे. वह भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रहे हैं. वह बीजेपी दलित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और अखिल भारतीय कोली समाज अध्यक्ष भी रहे. वर्ष 1986 में दलित वर्ग के कानूनी सहायता ब्यूरो के महामंत्री भी रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi