S M L

मैं अब VHP में नहीं हूं, राम मंदिर के मुद्दे पर करूंगा अनशन: तोगड़िया

आलोक कुमार आरएसएस में दिल्‍ली प्रांत के सहसंघ चालक हैं. इससे पहले विष्‍णु सदाशिव कोकजे को संघ का नया अंतरराष्‍ट्रीय अक्षय चुन लिया गया है

FP Staff Updated On: Apr 14, 2018 05:19 PM IST

0
मैं अब VHP में नहीं हूं, राम मंदिर के मुद्दे पर करूंगा अनशन: तोगड़िया

विश्‍व हिंदू परिषद के 52 साल के इतिहास में पहली बार अंतरराष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष के लिए हुए चुनाव के साथ ही तोगड़िया युग का अंत हो गया. प्रवीण तोगड़िया की जगह आलोक कुमार लेंगे. आलोक कुमार पेशे से एडवोकेट हैं. आलोक कुमार आरएसएस में दिल्‍ली प्रांत के सहसंघ चालक हैं. इससे पहले विष्‍णु सदाशिव कोकजे को संघ का नया अंतरराष्‍ट्रीय अक्षय चुन लिया गया है.

चुनाव हारने के बाद तोगड़िया ने कहा 'मैं अब VHP में नहीं हूं, अब लोगों के लिए काम करुंगा. हम राम मंदिर के मुद्दे पर अनशन करेंगे. यह अनशन अहमदाबाद में मंगलवार से शुरू होगा.'

विश्‍व हिंदू पिरषद के अंतरराष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष के लिए शनिवार को गुरग्राम में चुनाव कराया गया था. चुनाव में हिंदुत्व का बड़ा चेहरा रहे प्रवीण तोगड़िया के नजदीकी राघव रेड्डी के खिलाफ चुनाव लड़ते हुए कोकजे ने बड़ी जीत हासिल की है.

इस जीत के साथ ही कयास लगाए जाने लगे थे कि प्रवीण तोगड़िया को विश्‍व हिंदू परिषद से बाहर का रास्‍ता दिखाया जा सकता है. चुनाव के कुछ देर बाद ही आलोक कुमार को अंतरराष्‍ट्रीय कार्यकारी अध्‍यक्ष नियुक्‍त कर लिया गया. अशोक राव चौगुले को कार्याध्यक्ष विदेश विभाग, मिलिंद परांडे को महामंत्री, विनायक राव देशपाण्डे को संगठन महामंत्री, चम्पत राय को उपाध्यक्ष, कोटेश्वर राव को सयुंक्त महामंत्री और डॉ सुरेन्द्र जैन को संयुक्त महामंत्री चुना गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi